दिग्विजय बोले - महिलाओं को लेकर तालिबान और आरएसएस की सोच एक जैसी

दिग्विजय ने भागवत के पुराने बयान को लेकर नए तरीके से उन पर हमला किया

भोपाल। कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने संघ प्रमुख मोहन भागवत पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को लेकर तालिबान और आरएसएस की सोच एक जैसी है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को ट्वीट किया। इसमें उन्होंने उन्होंने लिखा कि तालीबान कहता है कि महिलाएं मंत्री बनाए जाने लयाक नहीं हैं। वहीं मोहन भागवत का कहना है कि महिलाओं को घर पर ही रह कर गृहस्थी सम्भालना चाहिए। इस पर उन्होंने सवाल किया कि क्या विचारों में समानता है। इस ट्वीट पर दिग्विजय खूब ट्रोल हुए। वहीं यूजर्स ने इस पर तीखे कमेंट भी किए।

अफगानिस्तान को लेकर नीति स्पष्ट करे केन्द्र -
दिग्विजय ने केन्द्र सरकार ने अफगानिस्तान की नई सरकार को लेकर अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है। उन्होंने पूछा है कि मोदीशाह सरकार को अब स्पष्ट करना होगा कि जिस तालीबान सरकार में घोषित आतंकवादी संगठन के सदस्य व इनाम घोषित आतंकवादी मंत्री हैं, उसे क्या भारत मान्यता देगा।

7 साल पहले दिया था बयान -
मोहन भागवत ने सात साल पहले यह कहा था कि पति-पत्नी के बीच शादी एक समझौता है, जिसमें पत्नी घर की देखभाल और बाकी चीज़ों का ध्यान रखती है जबकि पति कामकाज और महिला की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालता है। दिग्विजय ने भागवत के इसी पुराने बयान को लेकर नए तरीके से उन पर हमला किया।

दीपेश अवस्थी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned