जो बंगला शिवराज सरकार में छिना वह दिग्विजय को कमलनाथ ने वापस दिया,ज्योतिरादित्य को करना पड़ सकता है इंतजार

जो बंगला शिवराज सरकार में छिना वह दिग्विजय को कमलनाथ ने वापस दिया,ज्योतिरादित्य को करना पड़ सकता है इंतजार

Deepesh Tiwari | Updated: 19 Dec 2018, 06:04:50 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

यहां दिग्विजय निकल गए आगे, ज्योतिरादित्य व विवेक तन्खा रह गए पीछे!...

भोपाल। भाजपा सरकार के समय जिन पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगले फिर से अलॉट किये थे, उनमें कांग्रेस के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह का बंगला शामिल नहीं था। वहीं सत्ता बदलते ही दिग्विजय सिंह को अपना बंगला वापस मिल गया है।

ज्ञात हो कि इससे पहले हाइकोर्ट ने सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगले खाली कराने का आदेश दिया था। इस फैसले के बाद सरकार ने भी आदेश जारी किया और पूर्व मुख्यमंत्रियों के सरकारी बंगले का आवंटन निरस्त कर दिया।
इसके कुछ दिन बाद नए आदेश जारी हुए। इसके तहत पूर्व मुख्यमंत्रियों को उनके बंगले फिर से दे दिए गए, लेकिन जब कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री को बंगला देने की बारी आई तो इसमें नया खेल हो गया।

पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला दोबारा अलॉट करते समय शिवराज सरकार ने बीजेपी के पूर्व मुख्यमंत्रियों का ध्यान तो रखा लेकिन कांग्रेस सरकार में सीएम रहे दिग्विजय सिंह को किनारे कर दिया था।

इसके बाद शिवराज सरकार ने बीजेपी की उमा भारती, बाबूलाल गौर और कैलाश जोशी जैसे पूर्व मुख्यमंत्रियों को तो सरकारी बंगले फिर से अलॉट कर दिए थे, परंतु 10 साल तक एमपी के मुख्यमंत्री रहे कांग्रेस के दिग्विजय सिंह को बंगला नहीं दिया गया था।

दरअसल श्यामल हिल्स स्थित बंगला दिग्विजय सिंह ने कोर्ट के आदेश के बाद खाली किया था। राज्यसभा सांसद होने के नाते उन्हें यह सरकारी बंगला दिया गया है। ऐसे में अब मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को फिर सरकारी बंगला अलॉट हो गया है।

भेदभाव का लगाया था आरोप...
इससे पहले शिवराज सरकार के दौरान पूर्व मुख्यमंत्रियों को उनके बंगले फिर से दे दिए जाने के वक्त शिवराज सरकार ने जिन पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगले फिर से अलॉट किये थे।

उनमें बीजेपी की उमा भारती, बाबूलाल गौर और कैलाश जोशी के नाम तो थे, लेकिन 10 साल तक एमपी के मुख्यमंत्री रहे कांग्रेस के दिग्विजय सिंह का नाम नहीं था। कांग्रेस ने इस मुद्दे पर पहले भी शिवराज सरकार पर भेदभाव का आरोप लगाया था।


सुषमा स्वराज का बंगला,शिवराज को...
इस बार सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को विदिशा से सांसद केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज का सरकारी बंगला सी-7 प्रोफेसर कालोनी आवंटित कर दिया है।

बताया जाता है कि शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से उन्हें सिविल लाइन स्थित यह बंगला आवंटित करने का आग्रह किया था, जिसे स्वीकार कर उन्हें यह आवास आवंटित किया है।

ज्योतिरादित्य और सांसद विवेक तन्खा का बंगला...
मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार आने के बाद कमलनाथ के पास बंगले आवंटन की लम्बी लिस्ट आई है। जिस पर विचार विमर्श चल रहा है। हालांकि, अब तक पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और सांसद विवेक तन्खा को बंगला आवंटित नहीं किया है।


वहीं PHQ में पुलिस अधिकारियों के साथ हुई बैठक के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए सीएम कमलनाथ ने कहा कि दिग्विजय सिंह और शिवराज सिंह चौहान को बंगले नियमों के तहत अलॉट किये गए हैं। यहां कमलनाथ ने ये भी बताया कि मैंने शिवराज की फ़ाइल पर सबसे पहले साइन किए हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned