VIDEO: सीएम शिवराज के खिलाफ FIR दर्ज कराने क्राइम ब्रांच पहुँचे दिग्विजय सिंह

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने दिग्विजय सिंह पहुंचे थाने

By: Hitendra Sharma

Updated: 17 Jun 2020, 11:15 AM IST

भोपालः मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने क्राइम ब्रांच पहुँचे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह ने कहा है कि अगर मुझ पर FIR हुई है तो शिवराज सिंह चौहान पर भी होनी चाहिए । उन्होने आरोप लगाया है कि चिटफंड कंपनी को लेकर मैंने जो घोटाला उजागर किया, उससे डर कर शिवराज सिंह चौहान ने मुझ पर एफआईआर करवाई है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि एडिटेड वीडियो के ओरिजन का पता चलने से पहले किसी भी व्यक्ति पर कार्रवाई नहीं होनी चाहिये। एक साल पहले राहुल गांधी के एडिट वीडियो की शिकायत करने पहुंचे दिग्विजय सिंह का आरोप है कि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राहुल गांधी का एडिटेड वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया था।

पहले भी दो बार थाने जा चुके हैं पूर्व मुख्यमंत्री
इससे पहले 15 अक्टूबर 2015 को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह जहांगीराबाद थाने में पेश हुए थे। उन पर मुख्यमंत्री रहते हुए विधानसभा सचिवालय में नियम विरुद्ध नियुक्तियों का मामला चल रहा था। वे अपना पक्ष रखने के लिए थाने गए थे। पुलिस ने उन्हें नोटिस जारी किया था, जिसमें उन्हें बयान दर्ज कराने को कहा गया था।

जब गिफ्तारी देने थाने पहुंचे दिग्विजय सिंह
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के देशद्रोही कहने से नाराज पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह 26 July 2018 को भी टीटी नगर थाने जा चुके हैं। दिग्विजय सिंह हजारों समर्थकों के साथ कांग्रेस कार्यालय से रैली की शक्ल में टीटीनगर थाने पहुंचे थे। वहां मौजूद पुलिस अधीक्षक ने उन्हें गिरफ्तार करने से मना कर दिया था। दिग्विजय ने बताया था कि पुलिस ने लिखित में दिया है कि आपके खिलाफ देशद्रोह का कोई केस रजिस्टर्ड नहीं है। इसलिए अब में कोर्ट में शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ मानहानि का केस रजिस्टर्ड करवा रहा हूं।

ये भी पढ़ें...

दिग्विजय की चेतावनी! शिवराज दें देशद्रोही का सबूत, नहीं तो जाउंगा कोर्ट

पुलिस ने नहीं किया गिरफ्तार, दिग्विजय अब शिवराज के खिलाफ करेंगे मानहानि का मुकदमा

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned