भाजपा स्पष्ट करे वो नाथूराम गोडसे को देशभक्त मानती है या नहीं : दिग्विजय सिंह

- शिवराज - दिग्विजय में ट्विटर वॉर
- गांधी पर फिर तेज हुई सियासत
- दिग्विजय के बयान से गरमाई सियासत
- भाजपा ने भी किया पलटवार

 

भोपाल : पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर भाजपा पर निशाना साधा है। दिग्विजय ने गांधी जयंति से शुरु हुई भाजपा की पदयात्रा पर भी सवाल खड़े किए हैं। दिग्विजय ने एक के बाद एक ट्वीट कर भाजपा से इन सवालों का जवाब मांगा है साथ ही लोगों से अपील की है कि वे भाजपा की इस पदयात्रा का विरोध करें। दिग्विजय ने ट्वीट कि भाजपा ने तय किया है कि उनके नेता गण 2/10/2019 से ले कर 30/10/2019 तक पंचायतों में 150 किमी की पद यात्रा करेंगे।

मुझे इस बात की प्रसन्नता है कि भाजपा को महात्मा गॉंधी की याद तो आई। मेरा उन्हें सुझाव है कि गॉंधी जी के जो प्रमुख सामाजिक परिवर्तन के विषय थे उन पर वे जनता में चर्चा अवश्य करें। छुआ छूत के खिलाफ और दलितों को मंदिरों में प्रवेश, ग्राम स्वराज्य, हिन्दू मुस्लिम एकता व साम्प्रदायिक सद्भाव, नशा बंदी और भाजपा को स्पष्ट करना चाहिये कि क्या वे नाथूराम गोडसे को देश भक्त मानते हैं या नहीं। दिग्विजय ने लिखा कि यदि वे नाथूराम गोडसे को देश भक्त मानते हैं तो उन सभी को जो गोडसे को महात्मा गॉंधी का हत्यारा मानते भाजपा की पद यात्रा का विरोध करना चाहिये।

शिवराज का पलटवार :

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने पलटवार किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि दिग्विजय सिंह का जनता में स्थान बचा नहीं है, इसलिए वह कुछ न कुछ ऊट-पटांग बयान देते रहते हैं, ताकि कम से कम मीडिया में वह दिखाई देते रहें। उनको अब कोई गंभीरता से नहीं लेता है, इसलिए उनके किसी बयान पर टिप्पणी करने की आवश्यकता नहीं है।

Arun Tiwari
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned