मुझे सजा दिलवाएं, नहीं तो माफी मांगे CM, जानिये क्यों ऐसा बोले दिग्विजय सिंह

ट्वीट से किया दिग्विजय ने पलटवार...

By: दीपेश तिवारी

Published: 20 Jul 2018, 03:51 PM IST

भोपाल@दीपेश अवस्थी की रिपोर्ट...

सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा दिग्विजय सिंह को देश द्रोही कहे जाने पर चुनाव से कुछ समय पहले प्रदेश में एक बार फिर राजनीति गरमा गई है। सीएम द्वारा किए गए इस प्रहार पर अब दिग्विजय सिंह ने भी मोर्चा खोल दिया है।

दरअसल शिवराज सिंह चौहान द्वारा दिग्विजय सिंह को देश द्रोही कहे जाने पर दिग्विजय ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि मेरे देश द्रोही होने के प्रमाण हो तो मुझे सजा दिलवाएं, नही तो शिवराज माफी मांगे।. इस संबंध में उन्होंने ट्वीट भी किया है।

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज द्वारा कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को 'देशद्रोही' कहने जाने से कांग्रेस में नाराजगी फैल गई। जिसके चलते कांग्रेस लगातार इस बयान को लेकर पलटवार कर रही है।

इसी कड़ी में अब खुद दिग्विजय ने अपना बचाव करते हुए शिवराज के बयान पर पलटवार कर कहा है कि अगर उनके पास कोई सबूत है तो सबको दिखाए और मुझे गिरफ्तार कर जेल भिजवाए। अगर ऐसा नही है तो मुझसे माफी मांगे।

जानकारी के अनुसार गुरुवार को जन आशीर्वाद यात्रा के दूसरे चरण में सतना जिले के दौरे पर सीएम शिवराज ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा था। यहां उन्होंने कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह पर बेहद तल्ख टिप्पणी करते हुए उन्हें 'देशद्रोही' करार दिया था। उन्होंने कहा था कि दिग्गी कुंठित हैं और कई बार देशद्रोही लगते हैं।

जिन्हें देश, समाज, संस्कृति से कोई लेना देना नही है। ऐसे लोगों को हम धिक्कारते हैं। शिवराज सिंह ने कहा, ये ऐसे शख्स हैं अगर किसी आंतकवादी को पुलिस मार दे तो ये आतंकवादी के घर जाते हैं। आतंकवादी को जी कहकर संबोधित करते हैं।

digvijay singh tweet

यहां सीएम शिवराज ने दिग्विजय सिंह के मुख्यमंत्री कार्यकाल को लेकर भी हमला बोला। शिवराज सिंह ने कहा उनके 10 साल के कार्यकाल में प्रदेश तबाह हो गया था, ना बिजली, ना पानी और ना सड़क। 2003 में बीजेपी को बीमारू राज्य मिला था। जिसे आज विकसित राज्यों की सूची में लाकर खड़ा कर दिया गया है।

शिवराज की इस तेज टिप्पणी पर दिग्विजय ने पलटवार करते हुए ट्वीट कर लिखा है कि लगता है मप्र में मेरी सक्रियता से शिवराज जी को काफ़ी तकलीफ़ है। मुख्यमंत्री के नाते हो सकता है उनके पास मेरे देश द्रोही होने के प्रमाण हों। यदि हैं तो मुझे गिरफ़्तार कर सज़ा दिलवाएं। यदि नहीं हैं तो माफ़ी मांगें।

वहीं जानकारों की माने तो दोनों तरफ से लगातार एक दूसरे पर किए जा रहे प्रहारों के चलते राजनीति में उबाल आने लगा है। वहीं कुछ जानकारों का यह भी कहना है कि चुनाव नजदीक आते आते कई और नए तरह की बातें सामने आने की संभावना है। जिससे चुनावी माहौल में काफी टैंशन बिखरने का भी अंदेशा है।

BJP Congress
Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned