पूर्व सांसद के बेटे की कंपनी को लगाई 27.50 लाख की चपत

डिजिटल हस्ताक्षर से बन गया था डायरेक्टर

By: Pushpam Kumar

Published: 27 Feb 2021, 02:52 PM IST

भोपाल. शहर में पूर्व सांसद गुफरान-ए-आजम के बेटे की कंपनी के साथ कोलार डैम की मछली बेचने के नाम पर साढ़े 27 लाख रुपए की जालसाजी का मामला सामने आया है। जालसाज ने डिजिटल साइन से उनकी कंपनी की वेबसाइट पर खुद को डायरेक्टर नियुक्त कर लिया था। कंपनी ने कोलार डैम में मछली पालने के लिए ठेके पर लिया था। पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।
टीटी नगर पुलिस के अनुसार फरहान अहमद और हिमांशु वर्मा बिग जॉन्स नाम की कंपनी के डायरेक्टर हैं। फरहान अहमद पूर्व सांसद गुफरान-ए-आजम के बेटे हैं। 1 जनवरी, 2019 को कंपनी ने सीताराम उर्फ संतोष चौकसे के साथ अनुबंध कर उन्हें कोलार डैम से मछली निकालकर उसे बेचने का कॉन्ट्रेक्ट हुआ था। अनुबंध में तय था कि वह मुनाफे का 50 प्रतिशत अपने पास रखेंगे। साथ ही मछली बेचने पर रकम पहले उन्हें कंपनी के बैंक खाते में जमा करना होगी। इस दौरान आरोपी ने करीब 27.50 लाख की मछली बाजार में बेच दी थी।
जब एक साल तक पैसे नहीं दिए, तो कंपनी ने आरोपी को नोटिस जारी किया। जवाब में आरोपी ने लिखा कि वह खुद कंपनी का तीसरा डायरेक्टर है, इसलिए वह रकम अपने पास रख सकता है। ये खुलासा होने के बाद जब हिमांशु और फरहान ने कंपनी की वेबसाइट पर देखा, तो पाया कि आरोपी कंपनी का डायरेक्टर है। उसने फर्जीवाड़ा करके डिजिटल सिग्नेचर का इस्तेमाल करके खुद को तीसरा डायरेक्टर बना लिया है।

Pushpam Kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned