scriptDo not leave the city by giving a sample, if you come positive, you ar | सैम्पल देकर शहर न छोड़ें, पॉजिटिव आने पर अपने साथ परिवार के लिए बढ़ा रहे खतरा, शादी में तो जाएं ही नहीं | Patrika News

सैम्पल देकर शहर न छोड़ें, पॉजिटिव आने पर अपने साथ परिवार के लिए बढ़ा रहे खतरा, शादी में तो जाएं ही नहीं

- रिपोर्ट में पॉजिटिव आने के बाद कंट्रोल रूम से किए जा रहे फोन पर पांच में से दो व्यक्ति बताते वे बाहर हैं,

- संबंधित एसडीएम कार्यालय से ली जा रही मदद, कराया जा रहा अस्पताल में भर्ती

भोपाल

Published: December 07, 2021 10:19:50 pm

भोपाल. अगर आपने कोरोना जांच के लिए सैम्पल दिया है तो शहर छोड़कर न जाएं। पिछले कुछ दिनों में ऐसे कई मामले सामने आए जिनमें रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर जब संबंधित व्यक्ति या युवती को कंट्रोल रूम से फोन किया तो उसने खुद को बाहर बताया। ऐसे लोग अपने लिए तो जोखिम पैदा कर ही रहे हैं, अपने परिवार या नजदीकी, रिश्तेदार के लिए भी परेशानी खड़ी कर रहे हैं। ऐसे लोगों को ट्रेस करने के लिए संबंधित एसडीएम कार्यालय की मदद ली जा रही है। जबसे कोरोना पॉजिटिव आने पर अस्पताल में भर्ती करना शुरू किया गया है, तभी से लोग बहाने बनाने लगे हैं। जबकि ये आपके और आपकी परिवार के लिए फायदेमंद कदम है। सैंम्पल देने के बाद खासकर शादी में तो जाएं ही नहीं। पॉजिटिव आने पर क्या होगा आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं।

सैम्पल देकर शहर न छोड़ें, पॉजिटिव आने पर अपने साथ परिवार के लिए बढ़ा रहे खतरा, शादी में तो जाएं ही नहीं
सैम्पल देकर शहर न छोड़ें, पॉजिटिव आने पर अपने साथ परिवार के लिए बढ़ा रहे खतरा, शादी में तो जाएं ही नहीं

गोविंदपुरा एसडीएम सर्किल के अंतर्गत अवधपुरी में एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसे कॉल किया गया। लेकिन उसने अपने को बाहर बताया। जबकि फोन करने वाले ने उससे कहा कि ये अपराध की श्रेणी में आता है। लेकिन उसने कोई बात नहीं मानी। बाद में एसडीएम कार्यालय से फोन गया तब वह व्यक्ति किसी तरह अगले दिन अस्पताल में भर्ती कराया गया। कोरोना कंट्रोल रूम से इस प्रकार अलग-अलग एसडीएम सर्किल से मदद मांगी जाती है। अगर व्यक्ति खुद ही अपनी जिम्मेदारी पूरी करे तो और लोग संक्रमित होने से बच सकते हैं।

युवती खुद को बता रही थी खंडवा में, भोपाल में मिली

शुक्रवार की रिपोर्ट में पॉजिटिव आए सात लोगो को काटजू अस्पताल में भर्ती कराया है। इसमें से एक युवती को कॉल किया तो उसने अपने आप को खंडवा में होना बताया है। जबकि उसकी लोकेशन भोपाल में ही बताई जा रही है। इस युवती की तलाश में संबंधित एसडीएम कार्यालय से मदद मांगी गई। इसके बाद इसे ट्रेस कर अस्पताल में भर्ती कराया गया। कोरोना कंट्रोल रूम प्रभारी डॉ. संगीता टांक ने बताया कि जो लोग गलत जानकारी देते हैं या अस्पताल जाने से बचते हैं, ऐसे लोगों के लिए संबंधित एसडीएम कार्यालय से फोन कर उन्हें ट्रेस करा रहे हैं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.