डॉ. मुरुगन निर्विरोध राज्यसभा सदस्य बने, मोदी सरकार में हैं राज्य मंत्री

मध्यप्रदेश के थांवरचंद गहलोत के इस्तीफे के बाद से खाली हुई थी यह सीट, उपचुनाव में कांग्रेस ने नहीं खड़ा किया कोई उम्मीदवार...।

By: Manish Gite

Published: 27 Sep 2021, 07:44 PM IST

 

भोपाल। मध्यप्रदेश की एक सीट पर हुए राज्यसभा उपचुनाव में डॉ. एल मुरुगन निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। भाजपा के मुरुगन के सामने कांग्रेस ने कोई प्रत्याशी नहीं खड़ा किया था। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश की राज्यसभा सीट हाल ही में थावरचंद गहलोत के इस्तीफे के बाद खाली हुई थी।

 

सोमवार को विधानसभा सचिव ने डा. मुरुगन को निर्वाचन का प्रमाण पत्र सौंपा। इस मौके पर उनके समर्थक और परिवार के लोग भी शामिल थे। उनके राज्यसभा सदस्य निर्वाचित होने पर प्रदेश के भाजपा नेताओं ने उन्हें बधाई दी है।

 

मध्यप्रदेश से राज्यसभा उम्मीदवार बनेंगे डॉ. मुरुगन, मोदी सरकार में हैं राज्यमंत्री

वकालत करते थे डा. मुरुगन

डा. एल मुरुगन मोदी सरकार में मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय में राज्यमंत्री हैं। आरएसएस के सक्रिय सदस्य मुरुगन को इसी वजह से केंद्र में जगह मिली है। उनका जन्म 29 मई 1977 को तमिलनाडू के नमक्कल जिले के पारामती में हुआ था। उन्होंने मद्रास विश्वविद्यालय से कानून में स्नातक की उपाधि प्राप्त की है। उन्हें वकालत का भी 15 वर्षों का अनुभव है। मद्रास उच्च न्यायालय में उन्हें वकालत की।

चंदन मित्रा के निधन पर सीएम ने व्यक्त किया दुख, मध्यप्रदेश से बने थे भाजपा के राज्यसभा सांसद

 

सादगी के लिए हैं चर्चित

डा. मुरुगन और उनका परिवार सादगी के लिए जाना जाता है। मुरुगन के माता-पिता आजभी एसबेस्ट्स की छत वाले बेहद सामान्य घर में रहते हैं। उन्होंने मजदूरी कर अपने परिवार का पालन-पोषण किया। केंद्र में मंत्री बनाए जाने के बाद भी मुरुगुन के माता-पिता मजदूरी करते हैं। मंत्री बनने के बाद जब वे अपने माता-पिता को अपने साथ ले गए तो उनका मन दिल्ली में नहीं लगा और वे बेटे का सरकारी बंगला छोड़कर अपने गांव चले गए।

केंद्रीय मंत्री L Murugan ने भरा राज्यसभा का नामांकन, CM बोले- प्रदेश को एक और केंद्रीय मंत्री मिले

pm modi
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned