जीतू के बयान से फिर भड़के 'पटवारी', कहा- जारी रहेगा हड़ताल, मंत्री भी माफी मांगने को तैयार नहीं

जीतू के बयान से फिर भड़के 'पटवारी', कहा- जारी रहेगा हड़ताल, मंत्री भी माफी मांगने को तैयार नहीं

Muneshwar Kumar | Updated: 06 Oct 2019, 06:31:52 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

जीतू झुकने को तैयार नहीं, पटवारी भी अड़े, कहा- माफी नहीं तो काम नहीं

भोपाल/ मंत्री जीतू पटवारी के बयान से भड़के पटवारियों ने मंत्री गोविंद सिंह राजपूत से मुलाकात के बाद हड़ताल वापस लेने का ऐलान कर दिया था। लेकिन मंत्री जीतू पटवारी ने इंदौर में जैसे ही कहा कि मैंने कोई माफी नहीं मांगी है। इस पर पटवारी फिर से रूठ गए और ऐलान कर दिया कि सोमवार से काम पर नहीं लौट रहे हैं। मध्यप्रदेश में पटवारियों का हड़ताल जारी रहेगा।


दरअसल, कुछ दिन पहले मध्यप्रदेश सरकार के मंत्री जीतू पटवारी ने एक कार्यक्रम में कहा था कि सभी पटवारी भ्रष्ट हैं और बिना पैसा लिए काम नहीं करते। इसके बाद पटवारी हड़ताल पर चले गए। पटवारियों के हड़ताल पर चले जाने से 22 विभागों के काम प्रभावित हो रहे थे। सबसे ज्यादा खामियाजा प्रदेश के किसान भुगत रहे थे, जिन्हें पटवारियों के सर्वे के बाद ही मुआवजा मिलना था।

हड़ताल खत्म करने का किया ऐलान
पटवारियों के हड़ताल पर जाने के बाद से मध्यप्रदेश की सरकार उन्हें लगातार मनाने की कोशिश कर रही थी। राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के आवास पर रविवार को मुलाकात के बाद पटवारी मान गए थे। पटवारियों ने मंत्री के साथ बैठक के बाद ऐलान कर दिया था कि सोमवार से काम पर वापस लौट आएंगे। साथ ही सरकार ने इनके वेतन संबंधी मांग को छह महीने में पूरा करने का वादा किया था।

जीतू बोले नहीं मांगी माफी
इंदौर पहुंचे जीतू पटवारी ने कहा कि चर्चा है कि पटवारी मेरे ही कारण हड़ताल पर गए हैं। मैंने पहले भी कहा कि मेरे ब्लॉक में इस तरह की शिकायतें आई हैं, उसी संदर्भ में कहा था। बाद में ये चीजें प्रमाणित भी हुईं। तीन सौ से अधिक शिकायतें पटवारियों के खिलाफ आए। मैं सभी पटवारियों से कहता हूं कि आपके सम्मान को बचाने के लिए मुझे जनता को रोज फेस करना पड़ता है। रोज शिकायतें आती हैं कि बिना पैसे लिए पटवारी काम नहीं करते हैं। ऐसे में पटवारी भाईयों से निवेदन करता हूं कि अपने कॉम का सम्मान बढ़ना है तो जो भी लोग ऐसे काम कर रहे हैं, उन्हें रोके। नब्बे फीसदी लोग सही काम करते और दस फीसदी गलत, जिनकी वजह से बदनामी होती है।

मंत्री जीतू ने कहा कि ऐसे में किसी को बुरा लगने की जरूरत नहीं है। माफी मांगने की बात पर जीतू पटवारी ने कहा कि माफी-वाफी तो मैंने अभी भी नहीं मांगी है। माफी मांगना एक अलग कथा है। ऐसे में मेरी धारना को लोगों को समझना चाहिए। मेरी भावना किसी के खिलाफ नहीं है। मैं खुद पटवारी हूं।

फिर हड़ताल पर गए पटवारी
जीटू पटवारी के बयान से पटवारी फिर से भड़क गए। पटवारी संघ के अध्यक्ष उपेंद्र बघेल ने कहा कि अभी हमलोगों ने उनका बयान मीडिया में सुना है। उनके बयान सुनने से तो यही लगता है कि उन्होंने खेद प्रकट करने की बजाय कहा कि हम अपने बयान पर कायम हैं। ये सरासर हमारे विभाग और माननीय मंत्री जी का अपमान है। ऐसे में जीतू पटवारी नहीं चाहते हैं कि किसान का काम हो और वे किसान हितैषी बिल्कुल नहीं हैं। ऐसे में अगर वे माफी नहीं मांगते हैं तो हमलोग काम पर नहीं लौटेंगे। हमलोग फिर से वापस हड़ताल पर जा रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned