कॉलेज छात्रों के लिए तैयार होगा ई-कंटेंट, कोर कमेटी गठित

शुरूआत प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों के पाठ्यक्रम से होगी

भोपाल। राज्य सरकार कॉलेजों अध्ययनरत छात्रों के लिए नया प्रयोग करने जा रही है। इसी के तहत ई-कंटेट तैयार किया जा रहा है। यह कंटेंट विद्यार्थियों को भी उपलब्ध कराया जाएगा। इसे तैयार करने के लिए राज्य के उच्च शिक्षा विभाग ने कोर कमेटी का गठन किया है। यह कमेटी विभिन्न विषयों के लिए जारी पाठ्यक्रमों के आधार पर ई-कंटेट कार्यों की देखरेख करेगी। साथ ही तकनीकी समिति भी गठित की गई है। यह समिति ई-कंटेट तैयार करने के लिए राज्य स्तर पर तकनीकी कार्यों की देखरेख करेगी।

नई शिक्षा नीति के तहत उच्च शिक्षा विभाग ने यह ई-कंटेट तैयार करने की तैयारी शुरू की है। ई-कंटेंट की कवायद इसी कड़ी का हिस्सा है। यह कंटेट अभी प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों के होंगे। इसके बाद अन्य कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए भी यही सुविधा उपलब्ध होगी। इसके तहत विद्यार्थियों को प्रोफेशनल तरीके से तैयार वीडियो मिलेंगे। संबंधित विषयों से जुड़े व्याख्यान विभाग की वेबसाइड पर भी लोड किए जाएंगे। जिससे यदि विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की शंका हो तो उसे वह इन कंटेट के माध्यम से दूर कर सकता है। कंटेट तैयार करने सहित अन्य मामलों के लिए प्रदेश के सरकारी कॉलेज स्तर पर प्राध्यापकों को चयनित किया गया है।

डेढ़ दर्जन से अधिक विषयों का चयन -

ई-कंटेंट के लिए डेढ़ दर्जन से अधिक विषयों का चयन किया गया है। इनमें प्राणी शास्त्र, वनस्पति, रसायन, भौतिक, पॉलिटिकल साइंस, गणित, इतिहास, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, भूगर्भ, संस्कृत, दर्शन शास्त्र, मनोविज्ञान, साइंस, न्यूट्रीशन, टेक्सटाइल एंड क्लोथिंग और वाणिज्य संकाय के मुख्य तीन विषय शामिल हैं। चयनित किए गए विषयों के प्रत्येक प्रश्नपत्र की प्रत्येक इकाई को छह भागों में बांटा जाएगा। प्रत्येक भाग में 30 से 40 मिनट के व्याख्यान होगा। व्याख्यान में फोटो, पॉवर पाइंट प्रजेंटेशन, एनीमेशन इत्यादि का प्रयोग किया जाएगा।

दीपेश अवस्थी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned