होने जा रहा है बदलाव, अब अधिकारियों को नहीं देना होगा तोहफों का हिसाब

- 500 रुपए से अधिक का उपहार लेने पर देनी पड़ती थी सूचना...

By: Ashtha Awasthi

Updated: 26 Aug 2020, 12:24 PM IST

भोपाल। मध्यप्रदेश में राज्य के अधिकारियों और कर्मचारियों को तोहफे (gifts) लेने के लिए अब सोचना नहीं पड़ेगा। प्रर्देश के कर्मचारियों को अब 5 हजार मूल्य तक के उपहार ( शादी, धार्मिक उत्सव और पारिवारिक आयोजन में) लेने पर राज्य सरकार (state government) को किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं देनी होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि अब राज्य सरकार (shivraj goverment) सिविल आचरण अधिनियम 1976 में बदलाव करने जा रही है। ये राज्य के कर्मचारियों के लिए राहत की खबर भी है।

gifts-660.jpg

बता दें कि सिविल आचरण नियम 1976 के तहत राज्य सरकार के अधिकारी और कर्मचारियों को 500 रुपए से अधिका का तोहफा लेने के लिए सरकार को सूचित करना पड़ता है। साथ ही तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों को 250 और चुतर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को 100 रुपए से अधिक का तोहफा लेने के लिए सरकार को इस बात की जानकारी देनी पड़ती है। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो उन पर कार्यवाही भी की जा सकती है।

red-gift-box_960x537.jpg

जो भी अधिकारी या कर्मचारी इस बात की जानकारी नहीं देते हैं उन्हें राज्य नियमों के अनुसार सिविल आचरण अधिनियम 1976 के उल्लंघन करने पर राज्य सरकार की तरफ से कर्मचारियों को नोटिस दिया जाता है। इस नोटिस में उनसे जवाब मांगा जाता है। अगर कोई कर्मचारी या अधिकारी इसका जवाब नहीं देता है तो उसे नोटिस भेजकर कार्यवाही की जाती है।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned