EXAM TIPS : हिंदी लिखकर अभ्यास करें तो वर्तनी की अशुद्धियां सुधरेंगी

लेखन स्पष्ट एवं प्रस्तुतिकरण आकर्षक हो -

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Updated: 28 Feb 2020, 02:31 PM IST

भोपाल : सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) की 10वीं बोर्ड परीक्षा में हिंदी का पेपर 29 मार्च को होगा। भाषा में अच्छे अंक हासिल करना विद्यार्थियों के लिए काफी चुनौतीपूर्ण होता है, लेकिन अगर विद्यार्थी सही तरीके से तैयारी करें तो अच्छे अंक हासिल कर सकते हैं। परीक्षा के अंतिम दिनों में रिवीजन का काफी महत्व रहता है। आज हम बता रहे है हिंदी विषय में अच्छे अंक पाने के टिप्स।

लेखन स्पष्ट एवं प्रस्तुतिकरण आकर्षक हो : परीक्षा में लेखन स्पष्ट और प्रस्तुतिकरण आकर्षक हो तो मूल्यांकन कर्ता पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। अपठित गद्यांश को ध्यान से पढकऱ वाक्य के रूप में स्पष्ट उत्तर लिखें। संदेश और शीर्षक का अंतर समझें। इस तरह से विद्यार्थी अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।

अगर विद्यार्थी परीक्षा की तैयारी के तहत जितना लिखित में अभ्यास करते है, उतनी ही उनकी वर्तनियों की अशुद्धियां कम होती हैं और वाक्य संरचना में मदद मिलती है। जो राइटिंग स्किल वाला पार्ट है, उसमें अपने विचारों और कल्पनाओं को शामिल किया जाना चाहिए। विद्यार्थियों को प्रयास करना चाहिए कि उनका अपनी भाषा पर अधिकार हो। पुस्तकीय भाषा के प्रयोग से बचें। कई बार विद्यार्थी सिर्फ प्रश्न-उत्तर की तैयार कर लते हैं। विद्यार्थी को पूरा पाठ समझना चाहिए। ऐसे में वे खुद अच्छे ढंग से उत्तर दे सकेंगे।

  • शब्द और पद की परिभाषा, वाक्य रूपांतरण, समास, वाक्य शुद्धिकरण और मुहावरों के अधिक से अधिक उदाहरण व्याकरण पुस्तक में देखें व समझें।
  • सभी पाठों-कविताओं के सार व पात्रों के नाम शुद्ध रूप में लिखकर याद करें ताकि वर्तनी के अंक न कटें।
  • दो अंकों के उत्तर 30 से 40 शब्दों में और पांच अंकों के उत्तर 80 से 100 शब्दों में लिखें।
  • उत्तरों में नवीनता एवं मौलिकता का प्रयास करें।
  • पत्र, अनुच्छेद, संवाद, सूचना और विज्ञापन के श्रेष्ठ उदाहरण व्याकरण पुस्तक में देखें और स्वयं लिखकर अभ्यास करें।
  • अनुच्छेद के सभी बिंदुओं का प्रभावी विस्तार कर श्रेष्ठ उदाहरण अवश्य लिखें।
    (हिंदी टीचर वीणा पाठक और अपूर्वा बनर्जी)

उदाहरणों का प्रयोग अधिक से अधिक करना चाहिए। इससे समझने और याद रखने में आसानी होगी और किसी प्रकार का असमंजस नहीं होगा। जितना अधिक अभ्यास होगा उतना ही बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे। कविता में भाव सौंदर्य और शिल्प सौंदर्य की तैयारी अच्छे से करें।

Show More
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned