कॉलेजों में 1 से 10 जनवरी तक होंगी प्रायोगिक परीक्षाएं, कक्षाएं 20 से

ऑड-इवन फॉर्मूले पर 50 फीसदी उपस्थिति की व्यवस्था

By: Pushpam Kumar

Published: 26 Dec 2020, 01:55 PM IST

भोपाल. सरकारी-निजी कालेज के साथ विवि को खोलने का फैसला हुआ है। पहले 1 से 10 जनवरी तक यूजी-पीजी के सभी सेमेस्टरों की प्रायोगिक परीक्षाएं होंगी। कॉलेजों में कक्षाएं 20 जनवरी से शुरू होंगी। इस संबंध में पीएस और कमिश्नर के साथ रिव्यू में फैसला किया गया है। शिक्षण संस्थानों को कोरोना प्रोटोकाल का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए हैं। उच्च शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में नया दावा किया गया है। मंत्री मोहन यादव को विभाग ने बताया कि दूरदर्शन के अलावा ऑनलाइन पढ़ाई बेहतर हो रही है। क्योंकि अब प्रदेश के प्रोफेसरों के ऑनलाइन रिकार्ड किए गए आडियो-वीडियों क्लास देश-विदेश में भी देखे जा रहे हैं। यू-ट्यूब चैनल पर लगभग ढाई लाख विद्यार्थियों ने
इन्हें पसंद किया है। इसके अलावा 20 जनवरी से छात्रों की पढ़ाई कालेजों में होगी। अनुमान है कि प्रदेश के करीब 11 लाख से ज्यादा छात्र फिर से पढ़ाई कर सकेंगे। अभी उन्हें आनलाइन क्लासेस अटेंड करनी पड़ रही है।
फॉर्मूले के अनुसार लगेंगी कक्षाएं
कालेज में 100 प्रतिशत अटेंडस देनी होगी। क्योंकि आड-इवन फार्मूले के तहत क्लासेस लगेंगी। एक दिन छोड़कर आधे-आधे क्लास के बच्चों को बैठा कर पढ़ाने की व्यवस्था बनाई है।
छात्रों को एडमिशन लेने का मौका
उच्च शिक्षा विभाग ने एडमिशन की स्थिति को देखते हुए फैसला किया है कि साल 2020 के अंतिम दिन 31 दिसंबर को फिर से आनलाइन पोर्टल खोला जाएगा। जिसके माध्यम से तीन महीने के दौरान जिन छात्रों ने एडमिशन नहीं लिया है, वे प्रवेश ले सकेंगे। इसके लिए सुबह 11 बजे से रात 12 बजे तक रजिस्ट्रेशन होंगे।
महापुरुषों के योगदान पर छात्र करेंगे चर्चा
शासन में सुशासन का पाठ अब कालेज के छात्रों को भी दिया जाएगा। उन्हें महापुरुषों के योगदान के बारे में जानकारी दी जाएगी। इसके बाद महापुरुषों के बारे में छात्रों से सवाल क्विज के माध्यम के पूछे जाएंगे।

Pushpam Kumar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned