पैरा कमांडो की ड्रेस पहनकर गर्लफ्रैंड से मिलने पहुंचे जालसाज का पर्दाफाश

- आर्मी इंटेलिजेंस की सूचना पर भोपाल पुलिस ने पकड़ा
- आर्मी का अधिकारी बनकर सोशल मीडिया पर करता था लड़कियों से दोस्ती
- गर्लफ्रैंड से मिलने पहुंचा था आरोपी

By: Shailendra Sharma

Updated: 29 Dec 2020, 07:02 PM IST

भोपाल. भोपाल पुलिस ने आर्मी इंटेलिजेंस की सूचना पर एक जालसाज को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम संदीप दीक्षित है जो पन्ना के अजयगढ़ का रहने वाला है। आरोपी पैरा कमांडो की ड्रेस पहनकर पन्ना से भोपाल गर्लफ्रैंड से मिलने के लिए आया था। लेकिन वो गर्लफ्रैंड से मिलने पहुंच पाता इससे पहले ही पुलिस ने उसे पकड़ लिया। आरोपी के पास से एक चाकू भी बरामद किया गया है। आरोपी संदीप खुद को आर्मी का अधिकारी बनकर सोशल मीडिया पर युवतियों से दोस्ती किया करता था।

 

आर्मी में जाने का था सपना
पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद आरोपी संदीप ने बताया है कि उसका सपना आर्मी में जाने का था लेकिन उसका सिलेक्शन नहीं हुआ। अपने उसी सपने को पूरा करने के लिए उसने पैरा कमांडो की ड्रेस सिलवाई जो कि हूबहू असली ड्रेस की तरह है। भोपाल की चूनाभट्टी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और सरकारी कर्मचारी न होते हुए वर्दी का उपयोग करने और चाकू लेकर घूमने को लेकर मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी संदीप पन्ना के अजयगढ़ से पैरा कमांडो की ड्रेस पहनकर ही भोपाल पहुंचा था।

 

आर्मी का अधिकारी बनकर बनाता था गर्लफ्रैंड
पूछताछ के दौरान ये भी पता चला है कि आरोपी संदीप दीक्षित खुद को आर्मी का अधिकारी बताकर सोशल मीडिया पर लड़कियों से दोस्ती किया करता था। भोपाल के चूना भट्टी इलाके में रहने वाली एक युवती के साथ भी संदीप ने आर्मी अधिकारी बनकर दोस्ती की थी। करीब डेढ़ महीने पहले दोनों के बीच सोशल मीडिया के जरिए बातचीत शुरु हुई थी और दोनों के बीच बाद में अच्छी दोस्ती हो गई। इससे पहले भी दो बार आरोपी युवती से मिलने के लिए भोपाल आया था लेकिन तीसरी बार जब वो युवती से मिलने के लिए आया तो आर्मी इंटेलिजेंस को इसके बारे में खबर लग गई और इसे गिरफ्तार कर लिया गया।

 

देखें वीडियो- भय्यूजी महाराज की बेटी ने की मीडिया से बात

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned