समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिए किसान 20 फरवरी तक करा सकते हैं पंजीयन

रबी विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य पर गेहूं क्रय किए जाने के लिए पंजीयन केंद्रों पर 25 जनवरी से शुरू किये जा चुके हैं, जो कि 20 फरवरी तक किसान पंजीयन एवं संशोधन का कार्य किया जाएगा।

By: Faiz

Updated: 28 Jan 2021, 05:43 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिए किसान आगामी सोमवार से अपना पंजीयन करा सकेंगे। किसानों के पंजीयन के लिए भोपाल जिले में 31 केंद्र बनाए गए हैं। इन केन्द्रों पर किसान 20 फरवरी तक अपना पंजीयन करा सकेंगे। जिला आपूर्ति नियंत्रक, भोपाल ज्योति शाह नरवरिया के मुताबिक, जिले में रबी विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य पर गेहूं क्रय किए जाने के लिए पंजीयन केंद्रों पर 25 जनवरी से शुरू किये जा चुके हैं, जो कि 20 फरवरी तक किसान पंजीयन एवं संशोधन का कार्य किया जाएगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- दिल्ली हिंसा पर दिग्विजय सिंह का बड़ा बयान, कहा- 'किसान की मौत ट्रैक्टर पलटने से नहीं बल्कि गोली लगने से हुई है'

 

इन किसानों को नहीं कराना होगा पंजीयन

जिन किसानों ने पिछले सालों में गेहूं की फसल बेचने के लिए पंजीयन करा रखा है, उन्हें नया पंजीयन कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अगर पिछले साल के पंजीयन में आधार नंबर, बैंक खाता नंबर, मोबाइल नंबर में परिवर्तन कराना हो, तो उस समय प्रमाणित दस्तावेज पंजीयन केंद्र पर ले जाकर किसान अपने पंजीयन में संशोधन करा सकेगा। खाद्य नियंत्रक केन्द्र द्वारा प्राप्त जानकारी के मुताबिक, वनाधिकार पट्टाधारी एवं सिकमी किसानों को वनपट्टा तथा सिकमी अनुबंध की प्रति उपलब्ध करानी होगी। वहीं, जिन किसानों द्वारा विगत रबी विपणन और खरीफ विपणन में पंजीयन नहीं कराया गया या एवं ई-उपार्जन पोर्टल पर उनका डाटाबेस उपलब्ध नहीं है, ऐसे किसानों को समिति स्तर पर पंजीयन के लिए आधार नंबर, बैंक खाता नंबर, मोबाइल नंबर एवं निर्धारित प्रारूप में आवेदन पंजीयन केंद्र पर उपलब्ध कराना पड़ेगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- किसानों को सौगात : 20 लाख किसानों के खाते में कल डाले जाएंगे सम्मान निधि के 400 करोड़ रुपये


केन्द्रों में होंगे ये कार्य

गेहूं के पंजीयन का कार्य प्राथमिक कृषि सहकारी साख संस्थाओं के पंजीयन केंद्र, गिरदावरी किसान एप, कियोस्क कॉमन सर्विस सेनटर-लोक सेवा केंद्र पर गिरदावरी किसान एप से किया जाएगा। सिकमीदार एवं वनाधिकार पट्टेधारी किसानों का पंजीयन समिति स्तर पर स्थापित पंजीयन केंद्र पर ही किया जाएगा। किसान पंजीयन भू-अभिलेख डाटाबेस आधारित किया जाएगा।

तिरंगे का अपमान बर्दाश्त नहीं होगा- वीडी शर्मा - video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned