किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर मिलता रहेगा कर्ज

शिवराज सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि किसानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है, उन्हें बिना ब्याज के कर्ज का लाभ मिलता रहेगा।

भोपाल। मध्यप्रदेश में किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्ज मिलता रहेगा। यह कर्ज उन्हें खेती के लिए और कृषि कार्य के लिए मिलेगा। कमलनाथ सरकार के आने के बाद किसानों की इस सुविधा पर संशय की स्थिति बनी थी, अब शिवराज सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि किसानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है, उन्हें बिना ब्याज के कर्ज का लाभ मिलता रहेगा। मालूम हो शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कर्ज की व्यवस्था पूर्व में शिवराज सरकार में शुरू हुई थी।

शनिवार को मंत्रालय में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वित्त एवं सहकारिता विभाग की बैठक में निर्णय लिया कि किसानों को फसल ऋण दिए जाने के लिए पूर्व के वर्षों में संचालित जीरो प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण योजना को वर्ष 2020-21 में भी जारी रखा जाएगा। पिछली सरकार द्वारा इस सुरक्षित सुविधा को बंद जाने पर विचार किया जा रहा था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान हमारी प्राथमिकता हैं। मध्यप्रदेश सरकार निरंतर किसानों के कल्याण के लिए कार्य करती रही है। कोरोना संकट की इस घड़ी में हम किसानों को अतिरिक्त सुविधाएं देंगे। प्रदेश में कृषि गतिविधियों को अधिक से अधिक बढ़ावा दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि किसानों को प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से कृषि वर्ष 2018-19 में जीरो प्रतिशत ब्याज दर पर जो फसल ऋण दिया गया था, उसके भुगतान की तारीख पूर्व में 28 मार्च थी, जिसे अब किसानों की सुविधा के लिए बढ़ाकर 31 मई 2020 किया गया है।

बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव वित्त अनुराग जैन, प्रमुख सचिव सहकारिता उमाकांत उमराव एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

दीपेश अवस्थी Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned