इंदौर में सबसे तेज कोरोना की रफ्तार

कोविड 19 का संक्रमण फैलने की तेजी में मुंबई से आगे निकला इंदौर,

हर 23 मिनट में एक को कोरोना

 

 

 

By: Arun Tiwari

Updated: 18 Apr 2020, 07:21 PM IST

भोपाल : कोरोना फैलने के मामले में इंदौर देश का सबसे बड़ा हॉट स्पॉट बन गया है। मरीजों की संख्या में भले ही मुंबई पहले नंबर पर हो और इंदौर दूसरे नंबर पर लेकिन कोरोना की तेजी के मामले में इंदौर ने मुंबई को पीछे छोड़ दिया है। पिछले एक सप्ताह के आंकड़ों पर नजर डालें तो इंदौर में हर 23 मिनट में एक व्यक्ति को कोरोना अपनी चपेट में ले रहा है। इंदौर के मुकाबले भोपाल में ये रफ्तार थोड़ी धीमी है। भोपाल में हर 2 घंटे में एक व्यक्ति कोरोना का शिकार हो रहा है।

इंदौर और भोपाल ने कोरोना की टेबिल में प्रदेश को उपर पहुंचा दिया है। प्रदेश के कुल आंकड़ों की बात करें तो 80 फीसदी मामले इंदौर और भोपाल के हैं जबकि बाकी 20 फीसदी मामले अन्य 26 जिलों से आते हैं। हफ्ते भर की कोरोना की क्रोनोलॉजी ने ये साफ संकेत दे दिए हैं कि मध्यप्रदेश में ये लड़ाई सबसे बड़ी और सबसे लंबी चलने वाली है। कोरोना का संक्रमण तेजी से मध्यप्रदेश को अपनी चपेट में ले रहा है। कोरोना के संक्रमण को रोकने के जो उपाय चल रहे हैं वे बेहद नाकाफी नजर आ रहे हैं। प्रदेश में सबसे बड़ी कमी टेस्टिंग की है। प्रदेश के दस लाख लोगों पर 100 टेस्ट का औसत भी नजर नहीं आ रहा। प्रदेश के ये हालात चिंताजनक तो है हीं साथ अलॉर्मिंग भी हैं। सरकार के साथ-साथ प्रदेश के लोगों को ज्यादा सतर्कता,सक्रियता और ऐहतियात बरतने की जरुतर है।

तेजी में मुंबई से आगे हुआ इंदौर :
पिछले एक सप्ताह यानी 10 अप्रैल से 17 अप्रैल तक के मामले देखें तो कोरोना फैलने की तेजी साफ दिखाई देती है। देश में मरीजों की संख्या के मामले में सबसे बड़ा हॉट स्पॉट मुंबई है। प्रदेशों में महाराष्ट्र सबसे आगे है। मुंबई में 10 अप्रैल को 881 लोग कोरोना संक्रमित थे जो 17 अप्रैल को बढ़कर 2120 हो गए। यानी एक सप्ताह में 1239 मरीज बढ़ गए। ये तेजी सवा सौ फीसदी या दो गुने से ज्यादा है। वहीं मौत के मामले 54 से बढ़कर 114 पर पहुंच गए। वहीं इंदौर में सात दिन पहले मरीजों की संख्या 229 थी जो एक सप्ताह में बढ़कर 842 पर पहुंच गई। ये तेजी दो सौ फीसदी या तीन गुने से ज्यादा है। यानी इंदौर में कोरोना के मरीजों में मुंबई से दोगुनी रफ्तार से इजाफा हुआ। इस दौरान मौत के मामले इंदौर में 23 से 47 हो गए।

इंदौर-भोपाल में 80 फीसदी मामले :
प्रदेश के 26 जिलों में कोरोना ने अपनी दस्तक दे दी है। एक सप्ताह पहले प्रदेश के बीस जिले संक्रमित थे। दस अप्रैल को प्रदेश के बीस जिलों में 452 कोरोना संक्रमित मरीज थे जो 17 अप्रैल को बढ़कर 26 जिलों में 1310 हो गए। ये वृद्धि करीब ढाई गुना है यानी सौ फीसदी से ज्यादा है। इसमें एक और खास बात है कि 80 फीसदी मामले इंदौर और भोपाल के हैं जबकि बाकी बीस फीसदी अन्य 24 जिलों के हैं। भोपाल में एक सप्ताह पहले 124 मामले थे जो बढ़कर 197 हो गए। ये इजाफा 50 फीसदी से ज्यादा है। यहां पर भी मौत का आंकड़ा एक से बढ़कर छह पर पहुंच गया। सबसे बड़ी बात ये है कि यहां पर स्वास्थ्य महकमा ही कोरोना की चपेट में आ गया। हैरानी की बात तो ये भी है कि प्रदेश में कोरोना के चलते दो डॉक्टरों की मौत भी हो चुकी है।

Corona virus
Arun Tiwari Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned