अन्न हर व्यक्ति का अधिकार, सीएम बोले-रोटी, कपड़ा, मकान के लिए प्रतिबद्ध है सरकार

- संभाग के चार लाख से अधिक हितग्राहियों को मिली पात्रता पर्ची

 

भोपाल. राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम अंतर्गत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल स्थित समन्वय भवन से अन्न उत्सव का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सरकार रोटी, कपड़ा और मकान की सुविधाओं के साथ लिखाई, पढ़ाई और दवाई के इंतजामों के लिए प्रतिबद्ध है। अन्न्पूर्णा योजना के साथ प्रधानमंत्री गरीब अन्न योजना को समाहित कर जरूरतमंदों को हरमाह राशन देने की व्यवस्था की गयी। अन्न हर व्यक्ति की आवश्यकता है। आगामी नवम्बर महीने तक प्रति सदस्य 5 किलो गेहूं / चावल और एक किलो दाल निशुल्क दी जाएगी। भोपाल संभाग में 4 लाख 14 हजार 31 हितग्राहियों को जिलो में पात्रता पर्ची और राशन किट वितरित की गई ।

राजधानी में एक लाख 44 हजार 685 हितग्राहियों को, रायसेन जिले में 75 हजार 465 हितग्राहियों को, विदिशा में 66 हजार 52 हितग्राहियों को, सीहोर में 64 हजार 879 हितग्राहियों को तथा राजगढ़ जिले के 62 हजार 950 हितग्राहियों को अन्न उत्सव के तहत खाद्यान्न पर्ची वितरण और राशन किट उपलब्ध कराई गई।

- प्रदेश में 25 हजार 997 स्थानों पर मना अन्न उत्सव, 37 लाख नये हितग्राही जुड़े

प्रदेश में भी 25 हजार 997 स्थानों पर अन्न उत्सव मनाया गया, जिसमें 37 लाख ऐसे लोगों को यह अधिकार दिया जा रहा है जो राशन से वंचित थे। राजधानी, जिला, ग्राम पंचायत और वार्ड स्तर पर सभी नए हितग्राहियों को इस माह से प्रति सदस्य 5 किलो गेहूँ/ चावल और प्रति परिवार एक किलो आयोडाइज्ड नमक एक रूपये प्रति किलो की दर से देने की शुरूआत की जा रही है। इस अवसर पर सीएम ने 6 महिला हितग्राहियों बबीता, सीमा, शोभा, सुनीता, वंदना और बादामी देवी को राशन पैकेट और पात्रता पर्ची प्रदान की। कार्यक्रम की अध्यक्षता खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने की। हितग्राहियों में 1.66 लाख ऑटो चालको को भी शामिल किया गया है।

प्रवेंद्र तोमर Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned