वन विभाग ने 10 हजार इनामी पेंगोलिन तस्कर को पकड़ा

यूपी के फतेहपुर का है आरोपी

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Published: 16 May 2018, 11:15 AM IST

भोपाल. मप्र एसटीएफ भोपाल व स्पेशल टॉस्क फोर्स ने उत्तर प्रदेश पुलिस के साथ वन्य प्राणी पेंगोलिन के अंगों का अवैध रूप से व्यापार करने वाले १० हजार रुपए के इनामी व्यापारी मोहम्मद अहमद को गिरफ्तार किया है। मूलत: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर के रहने वाले अहमद को एसटीएफ ने गुरु ग्राम हरियाणा से १३ मई को गिरफ्तार किया है।

एसटीएफ को दो साल से तलाश थी। इसके खिलाफ १७ जनवरी २०१७ को वन अपराध प्रकरण दर्ज किया था। एसटीएफ के अनुसार पेंगोलिन के अवैध व्यापारियों में पकड़ा गया यह अब तक का सबसे बड़ा आरोपी है। कानपुर व आसपास इसका चमड़े का व्यापार है। इसकी आड़ में रिश्तेदारों के साथ पेंगोलिन के अंगों की तस्करी करता था।

यह एशिया व अफ्रीका के कई देशों में की जाती थी। इनमें मुख्य रूप से चीन, म्यामार, थाईलैंड, मलेशिया, हांगकांग, वियतनाम शामिल हैं। आरोपी को न्यायालय नरसिंहगढ़ में पेश कर रिमांड पर लिया गया है। इसके कई संबंध यूपी सहित उड़ीसा, पश्चिम बंगाल व देश के विभिन्न राज्यों में पाए गए हैं।

रिश्तेदार के घर से मिला था तेंदुए का नाखून
मोहम्मद अहमद के रिश्तेदार के घर से भी तेंदुए के नाखून व खाल का जखीरा मिला था। वनविभाग व पुलिस ने कार्रवाई कर बड़ी मात्रा में अवैध खाल, नाखून और दांत जब्त किए थे।

 

मिनी बस में सामूहिक दुष्कर्म के तीन आरोपियों को उम्रकैद

एमपी नगर थाना क्षेत्र में मिनी बस में दलित युवती के साथ हुए गैंगरेप के मामले में अदालत ने आरोपी सलमान उर्फ सल्लू, विवेक श्रीवास्तव और दीपक शर्मा को उम्रकैद और १०-१० हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। विशेष सत्र न्यायाधीश एट्रोसिटी एक्ट आरके सोनी ने मंगलवार को फैसला सुनाया।

मिनी बस चालक सलमान व उसके साथी विवेक-दीपक शर्मा ने १६-१७ सितंबर २०१५ की दरम्यानी रात दलित युवती के साथ मिनी बस में ज्यादती की थी। युवती सिंधी कॉलोनी बस स्टॉप से बोगदा पुल आने के लिए मिनी बस में बैठी थी। बोगदा पुल स्टॉप पर युवती ने बस रोकने को कहा तो चालक सलमान ने रफ्तार बढ़ा दी।

चलती मिनी बस में पीछे बैठे दीपक और विवेक ने युवती का मुंह दबा दिया। सलमान, मिनी बस सुभाष फाटक की ओर अंधेरी रोड पर ले गया, वहां तीनों ने सामूहिक दुष्कर्म किया और सूनी सडक़ पर छोडक़र भाग गए थे। युवती ने एमपी नगर थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned