कृषि कैबेनिट का गठन, ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के तीन नेताओं को मिली जगह

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में कृषि कैबिनेट का गठन किया गया है।

By: Pawan Tiwari

Published: 06 Aug 2020, 10:23 AM IST

भोपाल. प्रदेश में कृषि और उससे जुड़े मामलों को समग्र रूप से शामिल कर योजना बनाने और निर्णय लेने के लिये राज्य शासन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंत्रि-परिषद् समिति (कृषि केबिनेट) का गठन किया है। कृषि कैबिनेट में ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के मंत्रियों को भी जगह मिली है। कृषि कैबिनेट में सिंधिया खेमे के तीन मंत्रियों को शामिल किया गया है।

इनको मिली जगह
कृषि कैबिनेट में मंत्रि-परिषद् के जिन सदस्यों को शामिल किया गया है, उनमें गृह, जेल, संसदीय कार्य, विधि एवं विधायी कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, लोक निर्माण, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री गोपाल भार्गव, जल-संसाधन, मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विकास मंत्री तुलसीराम सिलावट तथा किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री कमल पटेल को शामिल किया गया है।

इसके साथ ही महिला एवं बाल विकास मंत्री मती इमरती देवी, पशुपालन, सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री प्रेम सिंह पटेल, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा, पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग, उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण (स्वतंत्र प्रभार), नर्मदा घाटी विकास मंत्री भारत सिंह कुशवाह, राज्य मंत्री आयुष (स्वतंत्र प्रभार), जल-संसाधन रामकिशोर (नानो) कावरे, लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी राज्य मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव और किसान कल्याण तथा कृषि विकास राज्य मंत्री गिर्राज डण्डोतिया को भी सदस्य के रूप में शामिल किया गया है।

सिंधिया खेमे से कौन
ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे से मंत्री तुलसी सिलावट, इमरती देवी और गिर्राज डंडोतिया को शामिल किया गया है। वहीं, मुख्य सचिव समिति के सचिव और कृषि उत्पादन आयुक्त समिति के समन्वयक होंगे।

Jyotiraditya Scindia
Show More
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned