कॉल सेंटर में करता था काम, फिर बन गया शातिर चोर

फ्री सर्विसिंग (free servicing) का झांसा (trape) देकर घर में घुसा और आंखों के सामने से ले उड़ा ली कार (car), 6 घंटों में पुलिस (police) ने किया गिरफ्तार, सतना (satna) में भी कर चुका है वारदात...

By: Shailendra Sharma

Published: 30 Jun 2020, 08:03 PM IST

भोपाल. भोपाल पुलिस महज 6 घंटे के अंदर कार चुराने वाले शातिर बदमाश (shatir badmash) को गिरफ्तार (arrest) कर लिया। आरोपी का नाम दीपक शर्मा है जो भोपाल (bhopal) के अयोध्या नगर इलाके का रहने वाला है। कार (car) चोरी करने के बाद आरोपी ने कार की नंबर प्लेट बदलकर एक जगह छिपा दिया था, जिसे आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने बरामद कर लिया है। भोपाल के ही गुलमोहर इलाके में रहने वाली एक महिला को बदमाश ने अपना निशाना बनाया था और कार चुरा ली थी।

वारदात का शातिर तरीका
पुलिस के मुताबिक 29 जून को गुलमोहर की रहने वाली एक महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि फ्री सर्विसिंग (free servicing) का झांसा देकर एक युवक उनके घर पहुंचा और कार, कार का रजिस्ट्रेशन कार्ड, उनका मोबाइल लेकर फरार हो गया। महिला ने पुलिस को बताया कि एक दिन पहले 28 जून को उनके पास एक फोन आया था जिसमें घर पर ही कार की सर्विसिंग करने की स्कीम बताई तो उन्होंने दूसरे दिन सुबह आने के लिए बोल दिया था। 29 जून को युवक उनके घर पहुंचा और बताया कि वो गाड़ी की सर्विसिंग करता है, महिला उसकी बातों में आ गई और एक कर कर उसे गाड़ी की चाबी, रजिस्ट्रेशन, आधार कार्ड और अपना मोबाइल दे दिया। सामान देने के बाद महिला अपने घर के कामों में लग गई और जब थोड़ी देर बाद देखा तो कार और युवक दोनों गायब थे। उसने तुरंत पुलिस को सूचना दी जिसके बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया और आरोपी की तलाश में जुट गई।

 

chor_3.jpg

मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया आरोपी
पुलिस ने महिला की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए आरोपी के मोबाइल नंबर को ट्रेस किया तो वो आरोपी तक पहुंच गई। आरोपी दीपक पहले तो कार चोरी की घटना से इंकार करता रहा लेकिन बाद में उसने अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस ने आरोपी दीपक का साथ देने वाले एक और युवक चैतन्य को भी गिरफ्तार किया है

 

chor_2.jpg

कॉल सेंटर में करता था जॉब ऐसे बना शातिर
पुलिस के मुताबिक आरोपी दीपक पहले कॉल सेंटर में काम करता था फिर भोपाल से कॉल सेंटर की नौकरी छोड़कर सतना चला गया और वहां पर हुंडई शोरूम में काम करने लगा। शोरूम में रिसेल/कटने आने वाली पुरानी 4 कार को हेराफेरी कर अवैध रूप से बेचना शुरू कर दिया, जिससे आरोपी के दीपक के विरुद्ध मार्च के महीने में थाना सिविल लाइन सतना में 420 ipc का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। तभी आरोपी सतना से फरार होकर भोपाल आ गया था, सतना पुलिस उसकी गिरफ्तारी हेतु भोपाल आई, तब भोपाल पुलिस की मदद से आरोपी दीपक को गिरफ्तार किया गया था। आरोपी के कब्जे से 2 लाख 80 हजार रुपये नगद बरामद हुए थे एवं एक कार भोपाल से व 3 कार सतना से बरामद की गई थी। वर्तमान में आरोपी दीपक जमानत पर आया हुआ था। कॉल सेंटर में दीपक ने कस्टमर को कैसे अटैंड/हेंडल करते है सब कुछ सिख लिया था। इसी बात का फायदा उठाकर दीपक भोपाल शहर के सर्विस सेंटरों पर जाकर वहां पर कार सर्विसिंग के लिए आने वाली महिलाओं के जॉब कार्ड से नाम व फोन नम्बर आदि जानकारी हासिल कर लेता था। आरोपी ने वाहन ठगी/चोरी करने के लिए बंद पड़ी पुरानी सिम कार्ड को ऐक्टिवेट कराई एवं true caller पर नाम एडिट कर nexa शोरूम कर दिया था, ताकि लोगों को जल्दी भरोसा हो जाये, इसके अलावा दीपक ने nexa शोरूम की एक ड्रेस बनवाई व लोगों को नए शोरूम की ओपनिंग के नाम पर पहली सर्विसिंग फ्री करने का लालच देकर ठगी का प्लान बनाया।

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned