@EDUCATION: इस तरह 5 महीने में पूरा होगा साल भर का कोर्स

मप्र में आरटीई के तहत एडमिशन लेने वाले स्टूडेन्ट्स का कोर्स साल भर की बजाए 5 महीने में ही पूरा होगा.. जानिए कैसे.. 

By: rishi upadhyay

Published: 08 Aug 2016, 06:45 PM IST


भोपाल। आरटीई यानि शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत अब स्कूलों में दाखिला लेने वाले बच्चों का कोर्स 5 महीने में ही पूरा करने का चैलेंज होगा। हाल ही में लॉटरी के माध्यम से सरकारी और निजी स्कूलों में स्टूडेन्ट्स के एडमिशन हुए हैं। ऐसे में शैक्षणिक कैलेंडर के मुताबिक स्टूडेन्ट्स के पास कोर्स पूरा करने के लिए महज 5 महीने का ही समय होगा। 

education

दरअसल आरटीई के तहत एडमिशन लेने वाले बच्चों के दाखिले की प्रक्रिया चल रही है। माना जा रहा है कि अगस्त के अंत तक ये प्रक्रिया पूरी हो पाएगी। अगस्त के आखिर तक ही ये बच्चे स्कूल जाना शुरू कर सकेंगे। फरवरी में निजी स्कूलों की परीक्षाएं हो जाती हैं। ऐसे में इन स्टूडेन्ट्स का साल भर का कोर्स 5 महीने में ही पूरा कराया जाएगा। 


आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में आरटीई के तहत 1 लाख 71 हजार बच्चों को सीटों का आवंटन हुआ है। पहले चरण की प्रक्रिया में इतनी सीटों का अलॉटमेंट किया गया है। बाकी चरणों में प्रदेश की 2 लाख से ज्यादा सीटों के आवंटन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। इस स्थिति में यदि समय से सीटों का अलॉटमेंट नहीं हुआ तो 5 महीने का समय और कम हो सकता है। ऐसे में शिक्षकों पर कम समय में साल भर का कोर्स पूरा कराना भी एक चैलेंज होगा। 


education


स्कूलों की व्यवस्था पर पड़ेगा असर
शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत जिन बच्चों को सीटों का अलॉटमेंट हुआ है, उनके डाक्यूमेंन्ट्स का वेरिफिकेशन निजी स्कूलों में जाकर किया जाएगा। सरकारी स्कूलों के शिक्षक इस काम को पूरा करेंगे। सरकारी स्कूल के टीचर्स के वेरिफिकेशन के काम में लगने से स्कूलों की व्वस्था पर असर पड़ेगा वहीं निजी स्कूलों के टीचर्स पर भी बाद में एडमिशन लेने वाले बच्चों का कोर्स पूरा कराने का अतिरिक्त बोझ बढ़ जाएगा। 


आपको बताते दें कि पहले चरण में जिन बच्चों को सीटों का अलॉटमेंट हुआ है उनके डॉक्यूमेन्ट्स का वेरीफिकेशन 9 अगस्त तक किया जाएगा। 


education


साल भर की पढ़ाई 5 महीने में
आरटीई के माध्यम से बच्चों को नर्सरी, केजी 1 और पहली कक्षा में एडमिशन दिया गया है। शिक्षण सत्र की शुरूआत के साथ ही मार्च के तीसरे हफ्ते या 1 अप्रैल से इन कक्षाओं में पढ़ाई शुरू हो जाती है। यही नहीं बच्चों के टेस्ट और तिमाही परिक्षाएं भी हो चुकी होती हैं। आरटीई के तहत एडमिशन लेने वाले स्टूडेन्ट्स की पढ़ाई अगस्त के अंत तक या सितंबर के पहले या दूसरे सप्ताह में शुरू होगी। लिहाजा कोर्स के मामले में ये काफी पिछड़ चुके हैं। ऐसे में इनके पास कोर्स को खत्म करने के लिए महज 5 महीने का ही समय होगा। 
Show More
rishi upadhyay
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned