गौर बोले नहीं ठुकराया कांग्रेस का ऑफर, लक्ष्मण को मंत्री न बनाने पर पत्नी दुखी

गौर बोले नहीं ठुकराया कांग्रेस का ऑफर, लक्ष्मण को मंत्री न बनाने पर पत्नी दुखी

Harish Divekar | Publish: Jan, 27 2019 08:48:41 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

सोशल मीडिया पर अपनों पर वार

 

कांग्रेस से चुनाव लडऩे का ऑफर ठुकराए जाने की बात सोशल मीडिया में वायरल होने पर पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने इसका खंडन किया है। गौर ने पत्रिका से बात करते हुए कहा कि मुझे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने चुनाव लडऩे का ऑफर दिया है, इसे मैंने अभी तक ठुकराया नहीं है। सोशल मीडिया पर इसे लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है। विधायक लक्ष्मण सिंह ने की पत्नी रुबीना शर्मा सिंह ने ट्वीट कर लक्ष्मण सिंह को मंत्री न बनाने और महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी पर सवाल उठाए।

मोदी ने वादा किया तो निभाना पड़ेगा

बाबूलाल गौर ने मीडिया से कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी जब भोपाल आए थे तो उन्होंने कहा था कि एक बार और बाबूलाल गौर। गौर ने गाना गाते हुए मोदी को उनका वादा याद दिलाया, उन्होंने कहा कि जो वादा किया वो निभाना पड़ेगा, तुम्हे मुझको टिकट देना पड़ेगा।

ये जाहिर है ये बात भोपाल से लोकसभा टिकट के लिए हो रही है। गौर ने पत्रिका से बात करते हुए कहा कि उनको दिग्विजय सिंह की ओर से लोकसभा चुनाव लडऩे का निमंत्रण मिला,हमने मना किया लेकिन उन्होंने कहा कि आप विचार करिए तो हमने कहा कि विचार करेंगे। जो बात करते हैं खुलेआम करते हैं।
लक्ष्मण की पत्नी का ट्वीट वार :
कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह की पत्नी रुबीना शर्मा सिंह ने गणतंत्र दिवस पर मंत्री इमरती देवी के भाषण न पढ़ पाने पर ट्विट कर कहा कि 'कितनी शर्मिंदगी की बात है कि हमारे मंत्री भाषण की चंद पंक्तियां नहीं पढ़ पा रहे। ये मंत्रियों की क्वालिटी है उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा कि ये हमें आश्चर्य है और दुख भी कि लक्ष्मण को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया जबकि वे आठ बार चुनाव जीते हैं और तीस साल से मेहनत और लगन से राजनीति कर रहे हैं।

 

विवाद बढऩे पर तीसरा ट्वीट कर कहा कि उन्होंने सीएम पर कोई सवाल नहीं उठाया, वे एक बेहतरीन इंसान और महान नेता हैं। रुबीना शर्मा सिंह ने पत्रिका से कहा कि उनकी बातों को गलत तरीके से परिभाषित किया गया,उनका किसी पर व्यक्तिगत आक्षेप नहीं था। उन्होंने कहा कि मन में दुख के साथ ये बात जरुर है कि आखिर किस वजह से लक्ष्मण सिंह को मंत्री नहीं बनाया गया, आखिर उनमें कमी क्या है। लोगों को भी इस बात की हैरानी है।

सोशल मीडिया में गौर को बताया ब्लैकमेलर

भाजपा के जिला महामंत्री सत्यार्थ अग्रवाल ने पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर को ब्लैकमेलर बताया। सत्यार्थ ने फेसबुक पोस्ट पर कमेंट में लिखा कि ब्लैकमेलर, अबकी बार चुनाव लड़ लें सरताज सिंह की तरह हैसियत पता चल जाएगी। सत्यार्थ इसमें भाजपा से अलग होकर चुनाव लडऩे की बात कर रहे हैं।

भाजपा नेता सुधीर जाचक ने कहा कि अनुशासनहीनता पर छोटे कार्यकर्ताओं पर तत्काल डंडा चल जाता है,बड़ों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती। सत्यार्थ अग्रवाल के आरोप और प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह की अनुशासन के दायरे में रहने की नसीहत पर गौर ने कहा कि वे अपनी बात कहते हैं किसी और की बात पर प्रतिक्रिया नहीं देते।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned