डोडा-चूरा जलाने पर किसानों को प्रति किलो 125 रुपए देगी सरकार, कैबिनेट के लिए तैयार हो रहा प्रस्ताव.. देखें पूरा मामला!

डोडा-चूरा जलाने पर किसानों को प्रति किलो 125 रुपए देगी सरकार, कैबिनेट के लिए तैयार हो रहा प्रस्ताव.. देखें पूरा मामला!

Harish Divekar | Publish: May, 03 2018 07:15:00 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

सौ करोड़ से जलेगा डोडा-चूरा.. मंदसौर गोलीकांड से नाराज किसानों को खुश करने सरकार का नया फंडा

भोपाल। मंदसौर गोलीकांड से नाराज किसानों को मनाने के लिए सरकार आपदा कोष से 100 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। अभी तक इसका उपयोग ओला-पाला और बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं में होता है। इस राशि से अब किसानों के पास रखा हुआ डोडा-चूरा जलानेे पर उन्हें 125 रुपए प्रति किलो के हिसाब से भुगतान का प्रस्ताव आबकारी विभाग तैयार कर रहा है।

इसे जल्द मंजूरी के लिए कैबिनेट मेंं लाया जाएगा। इसके बाद मालवा के तीन जिलों मंदसौर, नीमच और रतलाम में जिन किसानों के स्टॉक में डोडा चूरा है, वह भी इसके दायरे में आ जाएगा। सरकारी अनुमान के अनुसार 2017-18 और 2018-19 में तीनों जिलों में सात हजार टन डोडा-चूरा है। इसे जलवा कर भुगतान किया जाएगा।

इसलिए बनाया प्रस्ताव

मंदसौर गोलीकांड को 6 जून को एक साल पूरे हो रहे हैं। इन तीनों जिलों में अफीम की खेती से लगभग एक लाख परिवार जुड़े हैं। पहले डोडा-चूरा खरीदी बंद होने और उसके बाद गोलीकांड से अफीम उत्पादक किसानों में नाराजगी है। इसका खुलासा भाजपा और आरएसएस के सर्वे में भी हुआ है। मंदसौर कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव ने किसानों की नाराजगी से अवगत कराते हुए डोडा-चूरा जलाने और प्रभावितों को क्षतिपूर्ति का प्रस्ताव सरकार को भेजा। इसके बाद मुख्यमंत्री सचिवालय ने आबकारी महकमे को किसानों से 125 रुपए किलो में डोडा-चूरा खरीदकर जलाने का प्रस्ताव बना कर कैबिनेट में लाने के निर्देश दिए।

खरीदना-बेचना है अपराध

केंद्र ने 2016 के सीजन से डोडा-चूरा खरीदी-बिक्री पर रोक लगा दी थी। यह एनडीपीएस एक्ट के दायरे में है। मालवा में इसकी तस्करी में सैकड़ों किसानों को जेल हुई। नारकोटिक्स और आबकारी महकमे को निर्देश हैं कि हर साल अफीम निकालने के बाद डोडा-चूरा को 30 जून तक नष्ट कर दिया जाए। इसके बावजूद एजेंसियां इसे नष्ट कराने में नाकाम हैं।

आपत्ति के बाद नया प्रस्ताव

कुछ अधिकारियों की आपत्ति है कि एनडीपीएस एक्ट में 30 जून के बाद डोडा-चूरा रखना, खरीदना-बेचना अपराध है। अच्छा होगा कि किसान खुद ही जला दें। हम मुआवजा राशि दे देंगे। इसके बाद प्रस्ताव नए सिरे से बनाने की सहमति बनी।

डोडा-चूरा जलाने व किसानों को क्षतिपूर्ति देने का प्रस्ताव सरकार को भेजा है। इससे ज्यादा मैं आपको कुछ नहीं बता सकता।
-ओपी श्रीवास्तव, कलेक्टर मंदसौर

डोडा-चूरा नष्ट करने के संबंध में प्रस्ताव तैयार हो रहा है, लेकिन इसकी प्रक्रिया क्या होगी, यह नहीं बताया जा सकता।
-मनोज श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव वाणिज्यिक कर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned