नए साल में बम्पर पुरस्कार, समाजसेवियों कलाकारों को​ सरकार देगी 10 लाख तक का पुरस्कार

महावीर सम्मान भी दिया जाएगा, एक दर्जन नए पुरस्कार होंगे
- सीएस ने दिए निर्देश, दस दिसंबर की कैबिनेट में लाएंगे प्रस्ताव

भोपाल। कमलनाथ सरकार नए साल में प्रदेश वासियों को प्रोत्साहित करने के लिए बम्पर पुरस्कार लाएगी। सरकार ने नए साल में एक दर्जन से ज्यादा विभिन्न श्रेणियों के पुरस्कार देना तय किया है। खास ये कि इसके तहत एक लाख रुपए से दस लाख रुपए तक के नकद पुरस्कार दिए जाएंगे। इसके लिए इसी महीने पुरस्कारों की कार्ययोजना बनाकर आदेश जारी किए जाएंगे।

इसमें सबसे अहम महावीर सम्मान और किशोर कुमार पुरस्कार है। एक और महत्वपूर्ण पुरस्कार पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नाम पर रहेगा, जो दस लाख रुपए का दिया जाएगा। इसके तहत मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने इन पुरस्कारों की कार्ययोजना 10 दिसंबर के पहले फायनल करने के आदेश दिए हैं। इसके तहत कुछ प्रस्ताव दस दिसंबर को प्रस्तावित कैबिनेट बैठक में भी रखे जा सकते हैं, ताकि नए साल की शुरूआत पुरस्कारों की घोषणा से हो सके।


पुरस्कार इसलिए-

दरअसल, पंद्रह साल बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस ने प्रोत्साहन के लिए पुरस्कारों को देना तय किया है। इनमें से कुछ पुरस्कार कांग्रेस ने अपने वचन-पत्र में रखे थे, जिसके तहत अब वचन पूरे करना है। वहीं आदिवासी और दलित वर्ग को फोकस करके बिखरे वोटबैंक को जुटाने के प्रयास के तहत भी इस सेक्टर के लिए पुरस्कार शुरू किए जाने की योजना है। कांग्रेस सरकार व संगठन का मानना है कि इन पुरस्कारों से संबंधित वर्ग में बेहतर काम करने वाले प्रोत्साहित होंगे और सत्ता-संगठन की ब्रांडिंग भी होगी। इसलिए सरकार ने बम्पर पुरस्कार की योजना बनाई है।

महावीर सम्मान : दिग्विजय सरकार का वादा निभाएंगे-
भगवान महावीर के २६००वें निर्वाण वर्ष के मौके पर अहिंसा के क्षेत्र में सम्मान-पुरस्कार देना तय किया गया है। इसका एेलान पिछली दिग्विजय सिंह सरकार ने किया था, जिसे अब सत्ता में आने के बाद कांग्रेस सरकार पूरा करेगी। सीएस ने इस सम्मान की पूरी नियमावली बनाने के निर्देश दिए गए हैं।


किशोर कुमार पुरस्कार : सालाना बड़े कार्यक्रम होंगे-

सरकार ने किशोर कुमार पुरस्कार देना भी तय किया है। हर साल इस पर बड़ा कार्यक्रम भी होगा। इसके तहत प्रदेश रत्न, प्रदेश भूषण पुरस्कार भी दिए जांएगे। इसके अलावा नए लेखकों को दलित और आदिवासी वर्ग में सम्मान स्वरूप पुरस्कार दिए जाएगे। सीएस मोहंती ने ५ दिसंबर तक इसका पूरा प्लान बनाकर आदेश जारी किए जाने हैं।


इंदिरा गांधी पुरस्कार : 10 लाख नकद-

कमलनाथ सरकार ने इंदिरागांधी समाजसेवा पुरस्कार देना तय कर लिया है। सीएस मोहंती ने दस दिसंबर तक इसकी पूरी कार्ययोजना बनाकर लाने के आदेश दिए हैं। नए पुरस्कारों में इसी में सबसे ज्यादा १० लाख रुपए का नकद पुरस्कार रखा गया है। इसमें समाजसेवा के क्षेत्र में अच्छा काम करने वाले लोगों का चयन किया जाएगा। सामाजिक न्याय विभाग इसकी कार्ययोजना तैयार कर रहा है। इसके अलावा नशामुक्ति व दिव्यांगता क्षेत्र में बेहतर काम करने वालों को भी पुरस्कृत किया जाएगा।


समाजसेवा में ये होंगे नए पुरस्कार-

- इंदिरा गांधी समाजसेवा पुरस्कार - 10 लाख रुपए
- नशामुक्ति के क्षेत्र में पुरस्कार- 05 लाख रुपए

- नि:शक्तता क्षेत्र में पुरस्कार संस्थागत- 05 लाख रुपए
- नि:शक्तता क्षेत्र में पुरस्कार व्यक्तिगत- 01 लाख रुपए


हस्तशिल्प क्षेत्र में : 4 नए पुरस्कार-

सरकार हस्तशिल्प के क्षेत्र में भी नए पुरस्कार देगी। इसके लिए फिलहाल चार श्रेणियों में पुरस्कार रखे गए हैं। इनकी घोषणा जल्द की जाएगी।
- हस्त शिल्प के क्षेत्र में पुरस्कार- 05 लाख रुपए

- हस्तकला के क्षेत्र में पुरस्कार- 05 लाख रुपए
- माटीकला के क्षेत्र में पुरस्कार- 05 लाख रुपए

- चित्रकला के क्षेत्र में पुरस्कार- 05 लाख रुपए

Show More
जीतेन्द्र चौरसिया Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned