6 एसएफएस अधिकारियों सहित सौ रेंजरों की भर्ती करेगी सरकार, अगस्त में होंगी परीक्षा

- पीईबी से होगी 15 सौ वनरक्षकों की भर्ती

अब यह भर्ती परीक्षा अगस्त में होने की संभावना

By: Ashok gautam

Published: 12 Jul 2021, 11:08 PM IST

भोपाल। वन विभाग में आने वाले एक-दो सालों के अंदर काफी भर्तियां होंगी। सरकार ने इसकी शुरूआत राज्य वन सेवा (एसएफएस) के अधिकारियों से की है। एसएफएस अधिकारियों और रेंजरों की भर्ती के लिए मप्र लोक सेवा आयोग को 6 माह पहले प्रस्ताव दिया था। जिसमें से एसएफएस के 6 और रेंजरों के 106 पदों पर भर्ती की जाएगी। भर्ती के लिए प्रारंभिक परीक्षा अप्रैल में होनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते परीक्षा स्थगित कर दी गई थी। अब यह भर्ती परीक्षा अगस्त में होने की संभावना है।
वन विभाग में 1507 वनरक्षकों के पद खाली हैं। जिसमें पहले चरण में 800 पदों पर भर्ती की जाएगी। जबकि दूसरे चरण में 707 वनरक्षकों की भर्ती परीक्षा की जाएगी। इसके बाद करीब एक हजार तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों के पदों पर भर्ती होगी। लिपिकीय और आपरेटर के खाली पदों की भी जानकारी एकत्रित की जा रही है। बताया जाता है कि सहायक ग्रेड-तीन, निज सहायक, शीघ्रलेखक, कम्प्यूटर आपरेटर से लेकर मानचित्रकार तक के 800 से अधिक पद खाली हैं। वन विभाग में सबसे ज्यादा पद सहायक ग्रेड-एक, दो और तीन के खाली हैं।


वनपाल के 14 सौ पद रिक्त
जंगल महकमे में वनपाल के 14 सौ पद खाली हैं। इन पदों पर भी भर्ती की जानी हैं, लेकिन सरकार ने अभी इन पदों पर भर्ती करने के संबंध में स्वीकृति नहीं दी है। बताया जा रहा है कि अगले वर्ष तक इन पदों पर भर्ती करने की प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी। जिसमें उप वन क्षेत्रपाल, वन क्षेत्रपाल के करीब 14 सौ पदों खाली पदों को भी शामिल किया जाएगा। प्रदेश में वन रक्षक, वनपाल, उप वन क्षेत्रपाल, वन क्षेत्रपाल के 20 हजार 670 पद स्वीकृत हैं, जिनमें से सिर्फ 16798 पद भरें हैं, शेष पद वर्तमान में खाली हैं। इन पदों पर दो-तीन सालों के अंदर भर्ती होनी है।

Ashok gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned