संक्रमण से बचने, दो अतिथि शिक्षक देंगे जन सत्याग्रह में धरना

- संक्रमण से बचने, दो अतिथि शिक्षक देंगे जन सत्याग्रह में धरना

- प्रातांध्यक्ष और संयोजक देंगे धरना

भोपाल. शाहजहानी पार्क में पिछले 94 दिनों से सत्याग्रह कर रहे अतिथि शिक्षकों ने कोरोना संक्रमण फैलने से रोकने के लिए धरने का स्वरूप बदल दिया है। अब धरना स्थल पर केवल दो पदाधिकारी धरना देकर अपना विरोध जारी रखेंगे। इसस पहले मंगलवार रात हुई बरसात के चलते अतिथि शिक्षकों के टेंट में पानी भर गया, जिससे अतिथि शिक्षकों को समस्याओं का सामना करना पड़ा। अतिथि शिक्षक समन्वय समिति के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह परिहार ने कहा है कि मुख्यमंत्री अतिथि शिक्षकों का भविष्य सुरक्षित कर दें, हम घर वापस चले जाएंगे। अब सिर्फ पी डी खेरवार और सुनील सिंह परिहार ही आंदोलन को जारी रखेंगे, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण से सभी को बचाया जा सके। सत्याग्रह के 94 वे दिन अनवर अहमद कुरैशी, अजय तिवारी और कमलेश कटारे उपलब्ध रहे । खैरवार ने कहा कि, पिछले 94 दिनों में हमसे किसी को भी परेशानी नहीं हुई, हम पुलिस प्रशासन के निर्देशों का पालन करते हुए गांधीवादी तरीके से सत्याग्रह कर रहे हैं । आर्थिक तंगी और असुरक्षित भविष्य की वजह से अभी तक 44 अतिथि शिक्षक आत्महत्या कर चुके हैं। इसी से हमारी दुर्दशा को समझा जा सकता है। हम तो सिर्फ इतना चाहते हैं वर्षों तक सेवा देने वाले साथियों को बेरोजगार ना किया जाय। भले ही सरकार वर्तमान मानदेय पर ही हमें तीन वर्ष के लिए यथावत रखकर भविष्य सुरक्षित कर दे। अतिथि शिक्षकों ने प्रशासन को सहयोग करने का वचन दिया है और अतिथि शिक्षकों से अपील की है कि, आगामी सूचना तक कोई भी अतिथि शिक्षक भोपाल नहीं आए।

praveen malviya Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned