कोरोना के बीच हंता वायरस की दस्तक, जानिए इसके लक्षण, ऐसे करता है संक्रमित

हंता वायरस से अब तक 60 लोग संक्रमित हो चुके हैं। साथ ही, एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। आइये जानते हैं हंता वायरस के लक्षण, कारण और अन्य खास बातों के बारे में...।

By: Faiz

Published: 29 Mar 2020, 12:22 AM IST

भोपाल/ एक तरफ जहां चीन के वुहान से निकलकर पूरे विश्व में कोरोना वायरस ने दहशत का माहौल बना दिया है। इसी बीच चीन के ही एक अन्य शहर युन्नान से एक और जानलेवा संक्रमण ने दस्तक दी है। बात करें कोरोना वायरस की तो इस महामारी ने अब तक विश्वभर में 6 लाख से अधिक लोगों को संक्रमित कर दिया है, वहीं भारत में इसके अब तक 933 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें से मध्य प्रदेश में कोरोना के संक्रमितों की संख्या 34 हो चुकी है, जबकि 2 लोग जान भी गवा चुके हैं। वहीं, हंता वायरस से अब तक 60 लोग संक्रमित हो चुके हैं। साथ ही, एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। आइये जानते हैं हंता वायरस के लक्षण, कारण और अन्य खास बातों के बारे में...।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना वायरस से भी खतरनाक थी ये महामारी, संक्रमित होकर करोड़ों लोगों ने गंवाई थी जान


हंता वायरस के बारे में खास बात

दुनियाभर में जहां लोगों में कोरोना वायरस से ख़ौफ़ बढ़ता जा रहा है, वहीं हंता वायरस ने भी लोगों की चिंता बढ़ा दी है। बीते 23 मार्च को चीन में हंता वायरस की ही वजह से एक शख्स की मौत हो चुकी है। इसी के बाद से सोशल मीडिया पर हंता वायरस को लेकर काफी चर्चा की जा रही है। ट्विटर पर #Hantavius का काफी ट्रेंड भी रहा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हंता वायरस से संक्रमित शख्स की एक बस में मौत हुई थी, वो जिस बस में सवार था, उस बस में सवार 32 अन्य लोग भी सवार थे, बाद में बस में सवार सभी लोगों की जांच हुई।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में उतरे जेल के कैदी, लोगों को संक्रमण से बचाने कर रहे खास काम

यहां जानिए हंता वायरस के लक्षण

हंता वायरस को लेकर हुए शोध में सामने आया कि, ये संक्रमण चूहों से इंसानों में फैलता है। किसी व्यक्ति का संपर्क चूहे के मल, मूत्र या लार से होता है तो उस व्यक्ति को हंता वायरस होने का खतरा बन जाता है। हालांकि अब तक सामने आई जांचों के खुलासे में ये बात सामने नहीं आई है कि, हंता वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में जाता है। हंता के संक्रमण का पता लगने में एक से आठ हफ्तों का समय भी लग सकता है। अगर कोई व्यक्ति हंता संक्रमित है, तो उसे बुखार, दर्द, सर्दी, बदन दर्द, उल्टी की समस्या हो सकती है। संक्रमित व्यक्ति की हालत में अधिक बिगाड़ आने पर उसके फेफड़ों में पानी भरने के साथ, सांस लेने में तकलीफ़ हो सकती है।

 

पढ़ें ये खास खबर- Coronavirus Prevention : अब तक माइल्ड स्टेज पर है कोरोना वायरस, पर जरा सी चूक से शुरु हो जाएगा तीसरा स्टेज


जानलेवा है ये संक्रमण

हालांकि, ये संक्रमण कोरोना से पहले से लोगों में नजर आ रहा है। जनवरी 2019 में हंता से संक्रमित 9 लोगों की पेटागोनिया में मौत हो गई थी। इसके बाद पर्यटकों को आगाह भी किया गया था। एक अनुमान के मुताबिक़, हंता वायरस से संक्रमित लोगों के अब तक 60 मामले सामने आ चुके हैं। एक शोध टीम ने दावा किया है कि, हंता वायरस होने पर मृत्युदर 38 फीसदी होती है, क्योंकि इस बीमारी का अब तक कोई कोरोना की तरह कोई पर्याप्त ट्रीटमेंट नहीं है। जबकि, कोरोना की मृत्युदर औसत 2 फीसदी है।

coronavirus
Show More

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned