हनुमान मंदिरों में आज क्यों उमड़ रही है भीड़, क्यों खास है आज का दिन ?

हनुमान मंदिरों में आज क्यों उमड़ रही है भीड़, क्यों खास है आज का दिन ?

Manish Geete | Updated: 10 Dec 2017, 05:26:28 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश के मंदिरों में विशेष तौर रविवार को मंदिरों में काफी भीड़ थी। खासबात यह है कि हनुमान अष्टमी है। इस दिन को शुभ और विशेष मानते हुए हनुमान भक्त

 

भोपाल। मध्यप्रदेश के मंदिरों में विशेष तौर रविवार को मंदिरों में काफी भीड़ थी। खासबात यह है कि हनुमान अष्टमी है। इस दिन को शुभ और विशेष मानते हुए हनुमान भक्तों बजरंगबली को चोला चढ़ाने उमड़ पड़े। भोपाल के ग्यारह सौ हनुमान मंदिर, छोला हनुमान मंदिर, माता मंदिर स्थित हनुमान मंदिर, पांच नंबर स्टाप स्थित खेड़ापति हनुमान मंदिरों में अपक्षाकृत अधिक भीड़ देखी गई। बताया गया है कि रविवार के दिन हनुमान मंदिरों में रात तक भीड़ रहेगी।

mp.patrika.com बताने जा रहा है हनुमान अष्टमी के महत्व के बारे में, क्यों आज के दिन भोपाल समेत प्रदेशभर के कई मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ रही है...।


हनुमान जयंती पौष माह के कष्ण पक्ष की अष्टमी को आती है। इसलिए श्रद्धालु रविवार को अष्टमी होने के कारण हनुमान अष्टमी मना रहे हैं। इस दिन विशेष पूजा का महत्व है। इस दिन उनकी आराधना करने का विशेष महत्व भी है। शास्त्रों में बताया गया है कि इस दिन भी हनुमानजी की आराधना करने से विशेष फल प्राप्त होता है।


आज है हनुमानजी का विजय उत्सव
भोपाल के पं. जगदीश शर्मा के मुताबिक अष्टमी को हनुमान जयंती जैसा भाव उत्पन्न होता है। शास्त्रों में इस दिन के बारे में कहा गया है कि यह दिन हनुमानजी का विजय उत्सव मनाने का दिन है। इस दिन भगवान राम और रावण के बीच युद्ध के समय जब अहिरावण ने श्रीराम और लक्ष्मण को कैद करके पाताल लोक में दोनों की बलि देने की कोशिश की थी, तब बजरंग बली ने अहिरावण से युद्ध किया था और उसका वध किया था। इस युद्ध के बाद ज्यादा थक जाने के कारण बजरंगबली पृथ्वी की नाभि स्थल अवंतिका में आराम करने चले गए थे। बजरंग बली के शक्तिबल के कारण भगवान श्रीराम ने उन्हें यह आशीर्वाद दिया थआ कि पौष कृष्ण की अष्टमी को जो भी व्यक्ति पूजा करेगा उसके सारे कष्ट दूर हो जाएंगे। मान्यता है कि तभी से इस अष्टमी को विजय उत्सव मनाया जाता है। इसलिए इस दिन हनुमानजी के दर्शन जरूर करना चाहिए।


सूर्य भगवान का दिन है रविवार
भोपाल स्थित नर्मदा मंदिर के महंत पं. वल्लभानंद शुक्ल के मुताबिक हनुमान अष्टमी के दिन रविवार है यानी सूर्य भगवान का दिन है। इस दिन हनुमानजी के साथ सूर्य भगवान की भी विशेष पूजा करने से कई प्रकार की परेशानियों से मुक्ति मिलती है। इसके साथ ही बुरा समय भी दूर हो जाता है।

आइए जानते हैं आज कौन से उपाय करें...।

-सूर्यास्त के बाद बजरंगबली की मूर्ति के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं और हनुमान चालीसा पढ़ें।
-शाम को किसी मंदिर में हनुमानजी को लाल झंडा चढ़ाएं।
-हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं भक्त।
-हनुमानजी की मूर्ति के सामने लगाते हैं आटे का दीपक।
-हनुमानजी को चढ़ाते हैं चोला।
-सरसों के तेल का दीपक जलाते हैं।
-गुड़, चना और आटे का प्रसाद चढ़ाते हैं।
-चोले के बाद लाल झंडा भी चढ़ाने का महत्व है।
-हनुमान आरती, हनुमत स्तवन, राम वन्दना, राम स्तुति, संकटमोचन हनुमानाष्टक भी कर सकते हैं।
-राम नाम का जप करने का विशेष दिन।

 

 

इस खबर में दी गई जानकारी का दावा mp.patrika.com नहीं करता है। इन उपायों को अपनाने से पहले विद्वानों की राय लेना आवश्यक है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned