नक्सली मना रहे पीएलजीए सप्ताह

मंगलवार को पुलिस ने दो अलग-अलग स्थानों से नक्सली पर्चे जब्त किए हैं। इन दोनों ही स्थानों जब्त नक्सली पर्चों में नक्सलियों ने जनमुक्ति छापामार सेना (पीएलजीए) की 15 वीं वर्षगांठ 2 से 8 दिसम्बर तक जोर-शोर से मनाने का आव्हान किया है।

By: Prashant Sahare

Published: 09 Dec 2015, 12:54 PM IST

बालाघाट. मंगलवार को पुलिस ने दो अलग-अलग स्थानों से नक्सली पर्चे जब्त किए हैं। इन दोनों ही स्थानों जब्त नक्सली पर्चों में नक्सलियों ने जनमुक्ति छापामार सेना (पीएलजीए) की 15 वीं वर्षगांठ 2 से 8 दिसम्बर तक जोर-शोर से मनाने का आव्हान किया है। इधर, नक्सली पर्चे मिलने के बाद पुलिस ने जिले को जहां हाई अलर्ट कर दिया है। वहीं एक हजार जवानों को सुरक्षा में लगा भी दिया है। मप्र व छग के सीमावर्ती क्षेत्र में 24 घंटे निगरानी रखी जा रही है।
एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि नक्सल प्रभावित पुलिस चौकी बिठली के अंतर्गत ग्राम जगला और डाबरी चौकी के झकोरदा से पुलिस ने नक्सली पर्चे जब्त किए हैं। ये पर्चे मलाजखंड टाडा दलम के प्रतीत हो रहे हैं। इन पर्चों में  माओवादी के नेतृत्व में चल रहे जनता के जनयुद्ध को तेज करने, युवक-युवतियों के दलम में शामिल होने, बांस कटाई का मूल्य अधिक किए जाने, ऑपरेशन ग्रीन हंट को समाप्त करने, भ्रष्टाचार रोकने सहित अन्य चीजों का उल्लेख किया गया है। हालांकि, नक्सलियों के पर्चे मिलने के बाद से पुलिस ने सीमावर्ती क्षेत्रों में सर्चिंग तेज कर दी है।
तीन राज्यों का साझा ज्वाईंट ऑपरेशन
एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि नक्सली पर्चे मिलने के बाद से पुलिस द्वारा तीन राज्यों का साझा ज्वाईंट ऑपरेशन चलाया जा रहा है। जिसमें बालाघाट(एमपी), राजनांदगांव (छग) और गोंदिया (महाराष्ट्र) की पुलिस शामिल है। उन्होंने बताया कि वैसे जिले में नक्सली तो नहीं हैं, लेकिन पर्चे मिलने से उनकी संभावनाओं को नकारा नहीं जा सकता।
वर्सन
दो अलग-अलग स्थानों से पुलिस ने नक्सली पर्चे जब्त किए हैं। जिले को हाई अलर्ट कर दिया गया है। एक हजार जवानों को सुरक्षा में लगा दिया गया है। पुलिस नक्सलियों को उनके मंसूबों पर कामयाब नहीं होने देगी।
-गौरव तिवारी, एसपी, बालाघाट
Prashant Sahare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned