इस चीज को खाने के बाद आपको जीवन भर नहीं आएगा हार्टअटैक, जरूर पढ़ें ये खबर

इस चीज को खाने के बाद आपको जीवन भर नहीं आएगा हार्टअटैक, जरूर पढ़ें ये खबर

Astha Awasthi | Publish: Sep, 05 2018 06:08:12 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

इस चीज को खाने के बाद आपको जीवन भर नहीं आएगा हार्टअटैक, जरूर पढ़ें ये खबर

भोपाल। ब्रोकली भले ही सबसे लोकप्रिय सब्जी नहीं है लेकिन इसमें कमाल के पौष्टिक गुण होते हैं। ब्रोकली में प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाईड्रेट, आयरन, विटामिन ए और सी, क्रोमियम भारी मात्रा में पाया जाता है। डॉटीशियन रश्मि बजाज बताती है कि इसमें मौजूद मिनरल्स और इंसुलिन से ब्लड शुगर का स्तर सामान्य होता है। इसके अलावा इसमें फाइटोकेमिकल्स और एंटीऑक्‍सीडेंट भी पाया जाता है, जो अन्य बिमारियों और इंफेक्‍शन से लड़ने में सहायक होता है। इसमें कैरेटिनॉइड ल्यूटिन होता है, जो हृदय की धमनियों को मोटा होने से रोकता है। इससे हार्ट अटैक और अन्य हार्ट संबंधी बीमारियों का रिस्क कम होता है।

जरूर खाएं हार्ट अटैक के मरीज

फल और हरी सब्जियां दिल को तंदुरुस्त रखने में काफी मदद करते हैं। इसलिए अगर आपको हार्ट से जुड़ी कोई भी बीमारी है तो आप खाने में ब्रोकली को जरूर शामिल करें। वहीं अगर आप नॉन वेजिटेरियन हैं तो हफ्ते में एक दिन मछली जरूर खाना चाहिए। इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो हार्ट अटैक के खतरे को 52 फीसदी तक कम करता है। खाने में लहसुन का इस्तेमाल जरूर करें। यह आर्टरीज ब्लॉकेज को रोकता है। खाने में 50 प्रतिशत से ज्यादा मात्रा में ताजी हरी सब्जियों को शामिल करें।

 

Heart Attack

अमीनो एसिड से भरपूर

ब्रोकली में ट्रिप्टोफेन नामक तत्व होता है, जो मानसिक शांति एवं बेहतर नींद के लिए जाना जाता है। यह उन नौ अमिनो एसिड में से है, जिसका निर्माण हमारा शरीर नहीं करता। ट्रिप्टोफेन का उपयोग शरीर विटामिन बी, नाइसिन और सेरोटोनिन को बनाने में करता है। इस हार्मोन की सहायता से मानसिक तनाव कम होता है। इसलिए ट्रिप्टोफेन वाले खाद्य पदार्थों का सेवन नियमित किया जाना चाहिए क्योंकि यह हमारे शरीर में स्टोर नहीं रहता है।

बीटा कैरोटिन

शोध के अनुसार ब्रोकली में बीटा कैरोटीन होता है, जो आंखों में मोतियाबिंद और मस्कुलर डीजेनरेशन होने से रोकता है। ब्रोकली में कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम और जिंक होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। इतना ही नहीं, ब्रोकली में फाइटोकेमिकल्स होने के कारण यह एंटी कैंसर का काम भी करता है।

आयरन और फाइबर के लिए

ब्रोकली में बहुत ज्यादा आयरन भी पाया जाता है, जो एनीमिया और अल्जाइमर जैसे रोगों से बचाता है। यह फाइबर, क्रोमियम और पोटेशियम का अच्छा स्रोत है। ब्रोकली कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करने के साथ ही रक्तचाप को भी नियंत्रित करती है।

कम होगा कैंसर का खतरा

ब्रोकली में मौजूद क्रोमियम शरीर में इंसुलिन के प्रोडक्शन को कंट्रोल करता है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को ब्रोकली का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। कैंसर का खतरा कम करने में भी ब्रोकली अहम भूमिका निभाता है। यह शरीर में कैंसर सेल्स को पैदा होने से रोकता है और जहरीले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करता है।

Ad Block is Banned