मौसम विभाग की चेतावनी इन इलाकों में होने वाली है ओलों की बारिश, पड़ेगी हाड़ कंपा देने वाली ठंड

rishi upadhyay

Publish: Jan, 13 2018 05:20:21 PM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
मौसम विभाग की चेतावनी इन इलाकों में होने वाली है ओलों की बारिश, पड़ेगी हाड़ कंपा देने वाली ठंड

प्रदेश के ऊपर एक सिस्टम रूप ले रहा है, जो कि प्रदेश में बारिश के लिए हालात तैयार कर रहा है।

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर से ठंड की लहर चलने वाली है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश के कुछ इलाकों में वर्षा का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग के मुताबिक मध्यप्रदेश के इन इलाकों में बारिश होगी। प्रदेश के ऊपर एक सिस्टम रूप ले रहा है, जो कि प्रदेश में बारिश के लिए हालात तैयार कर रहा है। एक्सपर्ट्स की मानें तो बीते कुछ सालों में इस मौसम में जोरदार बारिश दर्ज की गई है। इसे देखते इस बात का भी सम्भावना जाहिर की जा रही है कि मध्यप्रदेश में कई जगहों पर पर ओलावृष्टि भी हो सकती है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि यदि प्रदेश में ओलावृष्टि होती है तो ठंड का दूसरा दौर थोड़ा सा और मुश्किल हो सकता है।

 

इन इलाकों में हो सकती है बारिश
मौसम विभाग के अनुसार मध्यप्रदेश के आसमान पर डेवलप हो रहे सिस्टम का असर प्रदेश के कुछ इलाकों में पड़ सकता है। विभाग के मुताबिक इन्दौर, उज्जैन, भोपाल और होशंगाबाद सम्भागों के जिलों में कुछ स्थानों पर बारिश का अनुमान है। इन इलाकों में कहीं कम और कहीं-कहीं कुछ ज्यादा बारिश होने की संभावना जाहिर की जा रही है।

 

वही एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस मौसम में होने वाली बारिश ठंड बढ़ा देती है। और जिस प्रकार का सिस्टम मध्यप्रदेश के आसमान पर बनता जा रहा है उसे देखते हुए ये लग रहा है कि मध्यप्रदेश में बारिश के साथ साथ ओलवृष्टि का भी योग बन सकता है। बीते कुछ सालों के आंकड़ों पर नजर डालें तो जनवरी के पहले पखवाड़े और मकर संक्रान्ति के आस पास हुई बारिश के बाद मध्यप्रदेश में ओलावृष्टि होने का रिकॉर्ड रहा है, लिहाजा इस बात की सम्भावना जाहिर की जा रही है कि तापमान में और गिरावट आ सकती है।

 

6 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया पारा
बीते 24 घण्टों के दौरान मध्यप्रदेश के रीवा, मण्डला और नौगांव में 6 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक भोपाल और उज्जैन सम्भागों के जिलों में न्यूनतम तापमान में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। वहीं चम्बल सम्भाग के जिलों में न्यूनतम तापमान सामान्य से कहीं अधिक दर्ज किया गया। इसके अलावा प्रदेश के बाकी सम्भागों के जिलों में न्यूनतम तापमानों में ज्यादा परिवर्तन नहीं आया है।

Ad Block is Banned