Floods in madhya pradesh: अब मध्यप्रदेश की बाढ़ में थमी मुंबई-दिल्ली की कई ट्रेनें, कई डायवर्ट

Floods in madhya pradesh: अब मध्यप्रदेश की बाढ़ में थमी मुंबई-दिल्ली की कई ट्रेनें, कई डायवर्ट

Manish Geete | Updated: 15 Aug 2019, 03:08:18 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

Floods in madhya pradesh: मुंबई ( mumbai ) के बाद अब मध्यप्रदेश ( madhya pradesh ) में भारी बारिश ( heavy rainfall ) और बाढ़ ( flood ) से जनजीवन प्रभावित हुआ है।

 

भोपाल। मुंबई ( mumbai ) के बाद अब मध्यप्रदेश ( madhya pradesh ) में भारी बारिश ( heavy rainfall ) और बाढ़ ( flood ) से जनजीवन प्रभावित हुआ है। मध्यप्रदेश से गुजरने वाली दिल्ली और मुंबई की कई ट्रेनें ( trains ) पिछले चार घंटों से अलग-अलग रेलवे स्टेशनों ( railway station ) पर खड़ी हैं। इसके अलावा कई ट्रेनों को डायवर्ट किया गया है। इधर, बीना में हालत सबसे ज्यादा खराब हैं, बीना के रेलवे ट्रेक पर जो ट्रेन फंसी है उसके चारों तरफ पानी ही पानी ( Flood in madhya pradesh ) है। बीना से बाढ़ के दिल-दलहा देने वाले वीडियो आए हैं। इसमें साफ नजर आ रहा है कि कई किलोमीटर दूर तक रेलवे ट्रेक पानी में डूब गया है। ऐसे में ट्रेनें वहीं पर खड़ी हो गई हैं।

 

झांसी रेल मंडल के झांसी-बीना रेल खंड पर मोहासा-धौरा स्टेशनों के बीच रेलवे लाइन पर पानी भर जाने के कारण भोपाल तरफ से आने वाली कई गाड़ियों के मार्ग परिवर्तित कर दिए गए हैं। इसमें गुरुवार की छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, विशाखापट्टनम-नई दिल्ली एपी एक्सप्रेस को भी बीना-कोटा-मथुरा जंक्शन के रास्ते भेजा जा रहा है।

 

 

VIDEO में देखें बीना के पास रेलवे ट्रेक पर भरा पानी

कई ट्रेनें लेट
दिल्ली रूट पर बीना के पास रेलवे ट्रेक पर पानी भर जाने के कारण कई ट्रेनें लेट हो गई हैं। पंजाब मेल तीन घंटे से भोपाल रेलवे स्टेशन पर खड़ी है।, जबकि झेलम एक्सप्रेस को गंजबासौदा के पास राउखेड़ी में रोक दिया गया है। जो ट्रेनें जहां हैं उन्हें वहीं रोक दिया गया है। सभी ट्रेनें 3-3 घंटे से एक ही स्थान पर रुकी हुई हैं।

यह ट्रेनें भी प्रभावित
गाड़ी संख्या 22163 भोपाल-खजुराहो महामना एक्सप्रेस करौंदा स्टेशन पर आंशिक निरस्त होकर वहीं से वापस भोपाल आएगी। जबकि खजुराहो से चलने वाली गाड़ी संख्या 22164 महामना एक्सप्रेस निरस्त रहेगी। इसके अलावा गाड़ी संख्या 18237 छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस एवं 22415 विशाखापट्टनम-नई दिल्ली एपी एक्सप्रेस का मार्ग परिवर्तन नहीं किया गया है। ये दोनों गाड़ियां अपने निर्धारित मार्ग से ही गंतव्य को जाएंगी।

 

तवा के चार फीट तक खोले गेट
लगातार भारी बारिश के बाद मध्यप्रदेश के ज्यादातर डैम लबालब हो गए हैं। इटारसी के पास स्थित तवा नदी पर बने बांध के पांच गेट चार फीट तक खोल दिए गए हैं। शाम 6 बजे जब तवा बांध का जलस्तर 1162.10 फीट था और बांध में पानी का इन्फ्लो 60 हजार क्यूसेक था, तो बांध प्रबंधन ने तवा के गेट खोलकर पानी छोडना शुरू कर दिया था। उधर, छिंदवाड़ा, बैतूल, पचमढ़ी और तवा बेसिन में जोरदार बारिश होने से बांध में जलस्तर तेजी से बढ़ा है। तीन वर्ष बाद तवा के गेट खोले गए हैं।

 

18 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विभाग ने आगरमालवा, मंदसौर, रतलाम, शाजापुर, देवास, उज्जैन, नीमच, राजगढ़, सीहोर, गुना, अशोकनगरक, शिवपुरी, श्योपुरकलां, मुरैना, धार, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी जिलों में भारी या अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसेक अलावा बाकी सभी जिलों में ज्यादातर स्थानों पर भी हल्की बारिश का दौर चलता रहेगा।

 

कहां कितनी हुई बारिश
मध्यप्रदेश के पाटन में 24, खुरई में 23, जबलपुर में 20, लटेरी, गंजबासौदा 16, सारंगपुर, शुजालपुर, सिरोंज, करवाई, सीहोर 14, ब्यावरा, भानपुर, आगर, रहेली 13, टोंकखुर्द, गुना, सोनकच्छ, गोटेगांव में 12 सेमी बारिश दर्ज की गई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned