यदि आप कर रहे हैं इन राज्यों की यात्रा तो हो जाएं सावधान, वैज्ञानिकों ने दी भयंकर Storm की चेतावनी

Manish Gite

Publish: May, 18 2018 12:17:48 PM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
यदि आप कर रहे हैं इन राज्यों की यात्रा तो हो जाएं सावधान, वैज्ञानिकों ने दी भयंकर Storm की चेतावनी

यदि आप कर रहे हैं इन राज्यों की यात्रा तो हो जाएं सावधान, वैज्ञानिकों ने दी भयंकर Storm की चेतावनी

 

भोपाल। भारतीय मौसम विभाग ने बड़ी चेतावनी दी है। उसने 22 राज्यों में आंधी-तूफान का फिर से अलर्ट जारी किया है। उसने कहा है कि आने वाले तीन दिनों में भयंकर आंधी-तूफान आने की आशंका जताई है। इसमें दिल्ली और एनसीआर भी शामिल है। इसका असर मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में भी महसूस हो सकता है। इसलिए देश के 22 राज्यों में छुट्टियां बिताने वाले लोगों को सावधान रहना चाहिए।

देश के 22 राज्यों में अलर्ट
मौसम विभाग ने कई राज्यों को अलर्ट किया है। इनमें असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पचिम बंगाल के उप हिमालयी क्षेत्र, सिक्किम, झारखंड, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, तटीय आंध्र प्रदेश, कर्नाटक के भीतरी क्षेत्र, तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में कुछ जगहों पर आंधी आने की पूरी आशंका व्यक्त की गई है। मध्यप्रदेश में हल्का असर पड़ सकता है। क्योंकि जो चक्रवादी प्रवाह बन रहा है, वो राजस्थान और मध्यप्रदेश के ऊपर ही बन रहा है।

इन राज्यों में जाने वाले पर्यटक रहें सावधान

यदि आप तूफान संभावित राज्यों की यात्रा कर रहे हैं तो आपको अभी से सावधान हो जाना चाहिए। गौरतलब है कि स्कूलों की छुट्टी और समर सीजन में मध्यप्रदेश से बड़ी संख्या में लोग अन्य राज्यों की यात्रा पर जाते हैं।

 

 

मध्यप्रदेश में खतरा नहीं

देश के 22 राज्यों में पर्यटकों को इस भयंकर स्ट्राम से सावधान रहना चाहिए। वे ऐसे क्षेत्रों की यात्रा न करें जहां तूफान की चेतावनी दी गई है। हालांकि मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के लिए कोई तूफान की चेतावनी नहीं दी है। इसलिए मध्यप्रदेश के लोग पचमढ़ी आदि पर्यटन स्थलों की सैर करने जा सकते हैं।

पचमढ़ी सबसे ठंडा, पर्यटकों की भीड़
इस भीषण गर्मी के बीच मध्यप्रदेश में पहाड़ों की रानी तोड़ी राहत दे रही है। यहां पर अधिकतम तापमान 37 डिग्री के आसपास है। रात का तापमान 24 डिग्री पर होने के कारण यहां रातें ठंडी हो रही है। हालांकि पतझड़ के कारण जंगल के पेड़-पौधे सूख गए हैं। इस कारण भी दोपहर में यहां गर्मी का अहसास ज्यादा हो रहा है। फिर भी पूरे प्रदेश में यहां लगभग पांच डिग्री तापमान कम रहता है। इधर, पचमढ़ी में तापमान कम होने के कारण कई पर्यटक पचमढ़ी में जमे हुए हैं। हालांकि अगले सप्ताह यहां का तापमान 38 डिग्री तक पहुंच जाएगा।

 

 

तीन दिनों में कभी भी हो सकता है सक्रिय
मौसम विभाग ने कहा कि मध्यप्रदेश के पश्चिमी हिस्से के ऊपर चक्रवाती प्रवाह बन रहा है। यह राजस्थान और मध्यप्रदेश की सीमाओं से लगे क्षेत्र के ऊपर बन रहा है। इस प्रवाह का असर मध्यप्रदेश के पश्चिमी हिस्से में आंशिक रूप से पड़ सकता है।

 

खरगौन में पारा 45 पर पहुंचा
मध्यप्रदेश के सभी जिलों में तापमान 42 के पार बना हुआ है। मध्यप्रदेश का हमेशा गर्म रहने वाला निमाड़ क्षेत्र इस समय काफी तप रहा है। यहां पारा 45 डिग्री रिकार्ड किया गया।


यहां हो सकती है हल्की बारिश
मध्यप्रदेश के गंवालियर, चंबल, शहडोल एवं रीवा संभागों के जिलें में और टीकगढ़, छतरपुर, छिंदवाड़ा, बालाघाट, जबलपुर एवं सिवनी जिलों में कहीं कहीं हल्की बारिश या गरज-चमक के साथ पानी की बौछारें हो सकती है। इसके अलावा तेज हवा भी चलने की चेतावनी दी गई है। मध्यप्रदेश में 22 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से यह हवाएं चलेंगी।

 

17 मई को सीजन का सबसे गर्म दिन
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अगले सप्ताह भी राहत नहीं मिल रही है। मौसम विभाग ने अगले सप्ताह का अनुमानित तापमान जारी किया है। 17 मई को 43.7 डिग्री पर तापमान बना हुआ है। यह सीजन का सबसे गर्म दिन बताया गया है। यही तापमान सोमवार को 44.5 डिग्री से बढ़ता हुआ अगले सप्ताह 45 डिग्री तक पहुंच सकता है।

 

 

मध्यप्रदेश के इन जिलों में कैसा रहेगा तापमान

मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले में गुरुवार का तापमान 42 डिग्री रिकार्ड किया गया।इसके अलावा यह तापमान अगले सप्ताह बढ़ते हुए 44 डिग्री तक पहुंच जाएगा। यानी यहां भी लोगों को गर्मी से फिलहाल कोई राहत के समाचार नहीं हैं।

-जबलपुर जिले में तापमान 42 डिग्री पर बना हुआ है। जबकि यह एक डिग्री बढ़ कर पूरे सप्ताह बना रहेगा।

-इंदौर का तापमान 41 डिग्री रिकार्ड किया गया। अगले सप्ताह यह तापमान 42 डिग्री पर बना रहेगा।
-मालवा क्षेत्र का उज्जैन भी काफी गर्म है। यहां गुरुवार को 43 डिग्री तापमान रिकार्ड किया गया। अगले सप्ताह भी यह 43 डिग्री पर ही बना रहने की उम्मीद है।

इन जिलों में भी नहीं है राहत
मध्यप्रदेश के खंडवा, खजुराहो, नौगांव, श्योपुर, टीकमगढ़ आदि जिलों में राहत की कोई खबर नहीं हैं। यहां भी तापमान 43 डिग्री से 45 डिग्री के बीच विचरण कर रहा है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned