दो साल पहले लगाए गए हाईडेंट आज तक शुरू ही नहीं हो पाए

दो साल पहले लगाए गए हाईडेंट आज तक शुरू ही नहीं हो पाए
दो साल पहले लगाए गए हाईडेंट आज तक शुरू ही नहीं हो पाए

Rohit Prasad Verma | Updated: 06 Oct 2019, 09:38:39 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

बाजारों की गलियों में आग पर काबू पाने में करते मदद

भोपाल. पुराने शहर के चौक को स्मार्ट सिटी के तहत हेरिटेज बाजार का लुक दिया जा रहा है। इसमें आगजनी की घटाना से बचाव व सकरी सड़कों और गलियों में दमकल पहुंचने की असुविधा को लेकर करीब दो साल पहले दर्जन भर स्थानों पर स्थाई हाइडेंट लगाए गए थे। जिनकी पाइप लाइन सुल्तानिया रोड इब्राहिमपुरा स्थिति पार्किंग में बने ओवर हेड टैंक तक डाली गई है, लेकिन उसे अब तक कनेक्ट ही नहीं किया गया।

यहां दिन में बाजार ठसाठस भीड़ से भरा होने के साथ ही नवरात्रि में बड़े-बड़े पड़ालों में झांकी सजाई जाती है। इसके बावजूद आग लगने से बचाव को लेकर व्यवस्था दमकलों के भरोसे है। हाईडेंट से पानी की व्यवस्था शुरू ही नहीं की गई।

गौरतलब है कि जब से चौक बाजार में हाईडेंट लगे हुए हैं, तब से लेकर अब तक कई बार आग लगने की घटाना हो चुकी है। हाईडेंट के पास ही लखेरा पुरा में एक शॉप में आग लगी थी, जिसे दमकलों की मदद से बुझाया गया था। लोगों का कहना है, चौक को हेरिटेज मार्केट बनाने की दिशा में पहले फेस में पांच करोड़ की लागत से विकास हुए थे, जिसमें हाईडेंट की व्यवस्था भी की गई थी।

हाईडेंट को चलाने के लिए व्यापारियों को भी प्रशिक्षित करने को कहा गया था, लेकिन हालात यह हैं कि बिना शुरू हुए ही हाईडेंट बर्बाद हो रहे हैं। नगर निगम ने इस दिशा में जमीनी कार्य तो कर दिया, लेकिन उसे शुरू करने के लिए कनेक्ट नहीं किया।

धुलाई में होती बड़ी भूमिका
चौक बाजार में सड़क पर लाल पत्थर लगा दिए गए हैं, जिनकी माह में दो से तीन बार धुलाई होनी थी। व्यापारियों का कहना है कि कई फर्श के पत्थर टूट गए हैं, दुकानों से निकलने वाला गंदा पानी सुबह सड़क पर बहता है। झांकियां बैठने के दौरान भी यही समस्या खड़़ी हुई है। हाईडेंट कनेक्ट होते तो आगजनी के अलावा सड़क की धुलाई आसानी से हो जाती। लोग चिकने हो रहे फर्श पर फिसलने से बच जाते।

02 साल पहले हेरिटेज चौक बाजार में आग लगने से निपटने के लिए चारों ओर लगाए गए स्थाई हाईडेंट शुरू ही नहीं किए गए।

 

जब से हाईडेंट लगे हैं उन्हें एक बार भी शुरू नहीं किया गया। इसे आपत स्थिति में चलाने के लिए व्यापारियों को प्रशिक्षण भी नहीं दिया गया। लोग इसके चारों ओर अवैध रूप से दुकानें लगाकर इन्हें और खराब कर रहे हैं।
विनोद बंसल, अध्यक्ष, चौक व्यापारी एसोसिएशन

चौक में आग लगने की घटना की सूचना मिलने पर अब भी फायर ब्रिगेड के दमकल भेजते हैं। जहां तक पानी की सुविधा के लिए हाईडेंट की व्यवस्था है, वह अभी कनेक्ट नहीं है। वह व्यवस्था हमारे अधीन नहीं आती है, उसका संचालन शुरू के बाद कौन देखेगा यह निर्धारित नहीं हुआ है।
रामेश्वर नील, फायर ऑफिसर, नगर निगम

हमने तो पूरी लाइन बिछा दी थी। उसे इब्राहिमपुरा स्थित ओवर हेडटैंक तक जोड़ दिया गया था। लाइन में कोई समस्या नहीं है। हमारा काम लाइन बिछाने वा हाईडेंट लगाने तक था, संचालन कैसे होगा, हमारी जबावदारी नहीं है।
पीके चतुर्वेदी, ठेकेदार, चौक

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned