बस संचालकों ने दी चेतावनी.. किराया का मामला... नीचे पढ़ें पूरी जानकारी!

Yogendra Sen

Publish: Apr, 17 2018 12:00:00 PM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
बस संचालकों ने दी चेतावनी.. किराया का मामला... नीचे पढ़ें पूरी जानकारी!

किराया नहीं बढ़ा तो थम जाएंगे बसों के पहिए

भोपाल। किराया बोर्ड की अनुसंशा के बावजूद बसों के किराए में बढ़ोतरी न होने से नाराज बस संचालक आर पार की लड़ाई के मूड में हैं। वे हड़ताल पर जाने की तैयारी में हैं। मंगलवार को सरकार को एक ज्ञापन सौंपकर अपनी मांगों को परिवहन मंत्री को बताएंगे। गौरतलब है कि बस ऑनर्स एसोसिएशन बसों के बढ़े किराए को लेकर चरणबद्ध तरीके से आंदोलन कर बसों पर काला झंडा लगाकर विरोध दर्ज करा रहा है। ऐसोसिएशन से जुड़े सुरेन्द्र तनवानी ने बताया कि मंगलवार को वे मंत्री भूपेन्द्र सिंह से चर्चा करेंगे। इसके बाद आगे की रणनीति तय करेंगे। उन्होंने बताया कि अगर चर्चा का कोई हल नहीं निकलता है तो हड़ताल भी की जा सकती है।

सरकार की सदबुद्धि के लिए यज्ञ
तनवानी ने बताया कि सरकार लगातार प्रदेश विकास के लिए काम कर रही है, लेकिन परिवहन विभाग की तरफ ध्यान नहीं है। सरकार का ध्यान इस विभाग पर भी हो, इसके लिए सदबुद्धि यज्ञ किया जाएगा।

इसलिए कर रहे मांग
बस ऑपरेटर करीब दो साल से सरकार को किराया बढ़ाने की बात कह रहे हैं। तनवानी का कहना है कि बीत दो सालों में डीजल की कीमतों में प्रति लीटर 25 फीसदी का इजाफा हो चुका है। इसके साथ ही ऑटो पाट्र्स की कीमतें भी बढ़ रही हैं। तमाम सरकारी प्रक्रियाओं की फीस भी बढ़ गई हैं, लेकिन बसों का किराया वहीं का वहीं है। अगर बसों का किराया नहीं बढ़ता है तो बसों का संचालन मुश्किल हो जाएगा।

ठेकेदार आज कटोरा लेकर करेंगे प्रदर्शन
गवर्नमेंट कांट्रेक्टर एसोसिएशन मंगलवार सुबह 11 बजे कटोरा लेकर निगम मुख्यालय में प्रदर्शन करेंगे। प्रवक्ता किशोर हसानी ने बताया, कटोरा इसलिए थाम रहे हैं, क्योंकि निगम ने भुगतान नहीं किया और हम भीख मांगने को मजबूर हो गए हैं। बकाया भुगतान को लेकर नगर निगम कांट्रेक्टर्स ने सोमवार को आईएसबीटी में प्रदर्शन किया। निगमायुक्त प्रियंकादास अपर आयुक्त वित्त पीके श्रीवास्तव को निर्देशित किया है कि 20 अप्रैल तक 50 फीसदी भुगतान कर दें। बाकी 50 फीसदी भुगतान 25 जून तक करने का आश्वासन दिया है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned