scriptIFREC will prepare Narmada River Ecology Plan | नर्मदा रीवर ईकोलाजी प्लान तैयार करेगा आईएफआरईसी | Patrika News

नर्मदा रीवर ईकोलाजी प्लान तैयार करेगा आईएफआरईसी

- अमरकंटक और नर्मदा के कैचमेंट में करीब 300 हेक्टेयर में यूके लिप्टिस का जंगल

- अमरकंटक के जिस कैचमेंट एरिया में यूके लिप्टिस के पेड़ हैं वह क्षेत्र दलदली है

भोपाल

Published: November 19, 2021 09:16:26 pm

भोपाल। नर्मदा जल के शुद्धीकरण के लिए सरकार भारतीय वानकीय अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद (आईएफआरईसी) देहरादून ऐक्शन प्लान तैयार करेगा। इसकी शुरूआत अमरकंटक से की जाएगी। अमरकंटक और नर्मदा के कैचमेंट में करीब 300 हेक्टेयर में यूके लिप्टिस का जंगल है, जिसे काटकर वहां स्थानीय प्रजातियों के पेड़ लगाने का भी अध्ययन ये संस्था करेगी।
अमरकंटक के जिस कैचमेंट एरिया में यूके लिप्टिस के पेड़ हैं वह क्षेत्र दलदली है। यहां करीब 7 माह पानी भरा रहता है, इसके चलते इस क्षेत्र में यूके लिप्टस के पेड़ वन विभाग के माध्यम से लगाए गए थे। हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक जनजातीय सभा अनूपपुर में की थी।
isl_1.jpg
इस दौरान वहां आदिवासियों ने कहा था कि इस पौधों से उन्हें कोई लाभ नहीं मिल रहा है और इसने जमीनी जल स्तर को भी प्रभावित किया है। इस गंभीरता से लेते हुए सीएम ने इन पौधों को काटकर दूसरे पौधे लगाने के निर्देश दिए है। इसके चलते वन विभाग आईएफआरईसी देहरादून यह अध्ययन करा रहा है इस क्षेत्र किस प्रजाति के पौधों का प्लांटेशन किया जाए, जो नर्मदा जल के शुद्धीकरण के लिए भी उपयुक्त हो और वहां का पारिस्थितिक तंत्र भी प्रभावित न हो सके।


पेड़ काटने के बाद आई अध्ययन की याद
वन विभाग ने आनन फानन में अमरकंटक के पास यूके लिप्टिस के आठ हजार पेड़ काट डाले। इसके बाद यह समझ में नहीं आया कि इन क्षेत्रों में कोई और प्रजाति के पौधे तैयार नहीं हो सकते हैं, क्योंकि यह क्षेत्र दलदलीय है। यहां जिस भी प्रजाति के पौधे लगाए जाते हैं वो सड़कर नष्ट हो जाते हैं। अपने आप को बचाने के लिए इसके अध्यन का काम अब आईएफआरईसी देहरादून को दे दिया है।

अमरकंटक में बनेगा आयुष वन
अमरकंटक में आयुष वन बनाया जाएगा। आयुष वन बनाने का काम वन विभाग करेगा। इस पर स्थानीय आदिवासियों का पूरा संरक्षण होगा। प्रयास यह होगा कि स्थानीय औषधीय पौधों की प्रजातियां तैयार की जाए, उसी को वहां के आदिवासियों की आजीविका का साधन बनाया जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करप्रधानमंत्री 5 फरवरी को हैदराबाद में रामानुजाचार्य की 216 फुट ऊंची प्रतिमा का करेंगे अनावरण, 120 किलो सोने से बनी है ये प्रतिमातीन तलाक मामला-फोन पर बोला और तोड़ दिया रिश्ताAadhaar Card में अपडेट करना चाहते हैं नया मोबाइल नंबर, फॉलो करें यह आसान तरीका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.