कांग्रेस में उप चुनाव मंथन, निर्दलीय विधायक शेरा ने पत्नी के लिए खण्डवा से की दावेदारी, अरुण यादव भी हैं सक्रिय

कमलनाथ बोले, उप चुनावों में हमें दमोह की भारी जीत का इतिहास दोहराना है

भोपाल। प्रदेश में उप चुनाव के पहले कांग्रेस में सक्रियता बढ़ी है। गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने उप चुनाव के लेकर पदाधिकारियों के साथ मंथन किया। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी मुकुल वासनिक विशेष रूप से मौजूद रहे। वहीं उप चुनाव मेें दावेदार भी सक्रिय हो गए हैं। निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र सिंह शेरा ने खण्डवा लोकसभा सीट से अपनी पत्नी के लिए दावेदारी की। इसी सीट के लिए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव भी दावेदार हैं। परम्परागत सीट में उनकी सक्रियता बनी हुई है। मालूम हो यह सीट भाजपा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन के कारण खाली हुई है। इसके अलावा निवाड़ी पृथ्वीपुर, जोबट और रैगांव विधानसभा सीट में भी उप चुनाव होना है। कमलनाथ पहले ही कह चुके हैं कि अरुण यादव ने अभी तक इस सीट से चुनाव लडऩे की मंशा नहीं जताई है।

कमलनाथ ने उप चुनाव की इन चारों सीटों के पर मंथन के लिए बैठक बुलाई थी। शुरूआत में उन्होंने सामूहिक रूप से सभी को सम्बोधित किया। प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक ने भी अपनी बात कही। बाद में कमलनाथ ने पदाधिकारियों से एकांत में वन टू वन चर्चा की। उप चुनाव की जमीनी हकीकत जानने की कोश्शि की। साथ ही जिताउ चेहरों को भी टटोलने की कोशिश की। मालूम हो कमलनाथ जिताउ उम्मीदवार के लिए क्षेत्र का सर्वे भी करा रहे हैं। जिसके चुनाव जीतने की संभावना होगी उसी को पार्टी टिकट देगी।

एकजुटता का पढ़ाया पाठ -

कमलनाथ ने कहा कि जो भी जीतने वाला योग्य उम्मीदवार पार्टी की तरफ से तय होगा, सभी कांग्रेस जन पूरी ताकत व एकजुटता से उसे जिताने के लिए मैदान में जुड़ जाएं। जिस प्रकार दमोह में हमने उपचुनाव भारी मतो से जीता, वैसे ही हमें यह सभी उपचुनाव भी भारी मतों से जीतना है। हमें तेरा-मेरा नहीं देखते हुए सभी को साथ लेकर चलना है। वहीं कांग्रेस के प्रभारी मुकुल वासनिक ने कहा कि हम सबको आपसी मतभेद भुलाकर एकजुट तरीके से इस लड़ाई को लडऩा है। सभी अपनी राय रखें, हम सभी की राय को महत्व देंगे लेकिन जो भी प्रत्याशी तय हो,सभी मिलकर, पूरी ईमानदारी से उसके लिए जुड़ जाएं। इस बैठक में पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश पचौरी, एआईसीसी सचिव सुधांशु त्रिपाठी, सी पी मित्तल, कुलदीप इंदौरा, संजय कपूर, पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया, चंद्रप्रभाष शेखर, राजीव सिंह, सज्जन वर्मा, नर्मदा प्रसाद प्रजापति, कार्यकारी अध्यक्ष बाला बच्चन, रामनिवास रावत, सुरेंद्र चौधरी, विपिन वानखेड़े, रजनीश सिंह, अर्चना जायसवाल, उपचुनाव क्षेत्रों के प्रभारी रवि जोशी, लखन घनघोरिया, प्रवीण पाठक सहित कांग्रेस संगठन के प्रमुख पदाधिकारी गण, इन क्षेत्रों के प्रमुख नेता व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

दीपेश अवस्थी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned