बगदादी का MP कनेक्शन, सीरियल धमाके से इंडिया को दहलाना चाहता था

बगदादी ने मध्यप्रदेश को तो टारगेट चुना, पर यहां जिस मॉड्यूल के जरिए ब्लास्ट की साजिश रची गई थी, उसे यूपी से ऑपरेट किया जा रहा था।

भोपाल। दुनिया में अपने आतंक से अमेरिका, रूस जैसी महाशक्तियों की नाक में दम कर चुका सबसे खूंखार आतंकवादी संगठन आईएसआईएस अब इंडिया में भी खौफ फैलाने की साजिश रच रहा है। उसकी ये साजिश कामयाब हो जाती, पर मध्यप्रदेश में एक्टिव हो रहे आईएस के पहले मॉड्यूल को एमपी एटीएस, यूपी एटीएस, इंटेलीजेंस ब्यूरो की संयुक्त टीम ने ध्वस्त कर दिया। PM मोदी के आदेश पर ही लखनऊ के आतंकी को ढेर किया गया। इतना ही नहीं, मोदी ने ही आतंकियों को जिन्दा पकड़ने का भी आदेश दिया था। हालांकि एक सवाल अब भी बना हुआ है, वो ये कि आईएसआईएस के मुखिया और दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी अबु बकर अल बगदादी ने आखिर इंडिया में धमाकेदार दस्तक देने के लिए मध्यप्रदेश को ही क्यों चुना? आखिर बगदादी का एमपी से क्या कनेक्शन है? बुधवार सुबह भोपाल पहुंची नेशनल इन्वेस्टिगेटिव एजेंसी यानी एनआईए इसी सवाल का जवाब ढूंढने में जुट गई। आइए हम बताते हैं एमपी में कैसे कहर बरपाना चाहता था बगदादी....




पहले भी हो चुकी एमपी से गिरफ्तारी
बगदादी अपने जाल में युवाओं को फंसा रहा है। पिछले साल बेंगलूरु में चार, जबकि भोपाल के टीलाजमालपुरा इलाके में छिपकर रह रहे 24 साल के अजहर इकबाल गिरफ्तार किया गया था। इन सभी पर आईएसआईएस से संबंध होने का आरोप है। अजहर की गिरफ्तारी के बाद खुफिया एजेंसियां ये तो समझ गईं थीं कि बगदादी के लिए मध्यप्रदेश के एक सॉफ्ट टारगेट हो सकता है, क्योंकि यहां प्रतिबंधित संगठन इस्लामिक स्टूडेंट मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के कई मॉड्यूल पहले ध्वस्त किए जा चुके हैं। फिर भी यहां सिमी की जड़ें जमी हुई हैं। ऐसे में यहां युवाओं को बहलाना आसान है।

atanki

(ये है IS आतंकी सैफुल्लाह की डेड बॉडी, जिसे UP ATS ने लखनऊ में 13 घंटे चले ऑपरेशन के बाद मार गिराया. सैफुल्लाह के पास से इतना सामान बरामद हुआ, जो इसका ISIS से कनेक्शन बता रहा है)




एक साथ कई ट्रेनों में थी धमाके की योजना
बुधवार सुबह भोपाल पहुंची नेशनल इन्वेस्टिगेटिव एजेंसी (एनआईए) की टीम ने आईएस की एमपी में मौजूदगी के लिए कई तरह की सर्चिंग शुरू की। कई टीमों को एमपी के विभिन्न हिस्सों में छापेमारी के लिए भेजा गया। प्राथमिक जांच में सामने आया कि आईएस एक साथ कई ट्रेनों में धमाके की योजना बना रहा था। बगदादी का पहला टारगेट एमपी ही था और यहां ट्रेनों में ब्लास्ट कर वो इंडिया में अपने आतंक का मैसेज देना चाहता था, पर एजेंसियों ने उसके इन मंसूबों को चकनाचूर कर दिया। 


home minister of madhya pradesh


लखनऊ से मॉड्यूल हो रहा था ऑपरेट
बगदादी ने मध्यप्रदेश को तो टारगेट चुना, पर यहां जिस मॉड्यूल के जरिए ब्लास्ट की साजिश रची गई थी, उसे यूपी से ऑपरेट किया जा रहा था। लखनऊ-कानुपर में बैठे मॉडयूल के दूसरे मेंबर एमपी में भेजे गए अपने गुर्गों से लगातार संपर्क में थे। मंगलवार सुबह ही तीन गुर्गों को भोपाल में ब्लास्ट के लिए पुष्पक एक्सप्रेस से भेजा गया, पर भोपाल में ये ब्लास्ट नहीं हो पाया और गुर्गों को ट्रेन को टारगेट करना पड़ा।
Show More
Brajendra Sarvariya
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned