scriptjugalbandi of Shiva praise, tabla and flute on Kathak captivated mind | कथक पर शिव स्तुति, तबले और बांसुरी की जुगलबंदी ने मोहा मन | Patrika News

कथक पर शिव स्तुति, तबले और बांसुरी की जुगलबंदी ने मोहा मन

विश्व योग-संगीत दिवस पर एक दिवसीय समारोह

भोपाल

Updated: June 21, 2022 10:52:48 pm

भोपाल। जनजातीय संग्रहालय में मंगलवार का योग-संगीत दिवस के अवसर पर एक दिवसीय गायन, नृत्य व वादन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर पुणे से तेजस और मिताली ने बांसुरी और तबले की जुगलबंदी हुई। वहीं, अनु सिन्हा ग्रुप ने कथक नृत्य की प्रस्तुति दी। सूर्यप्रकाश श्रीवास्तव ने गायन प्रस्तुति से उपस्थित श्रोताओं को मन मोह लिया है। कार्यक्रम का शुरुआत सूर्यप्रकाश श्रीवास्तव के गायन से हुई। उन्होंने योग जीवन योग रक्षक उससे मिले परमात्मा..., योग दिवस, संगीत दिवस है, दोनो एक दूजे के पूरक... गाने की प्रस्तुति दी। इसी क्रम में अनहद बाजे गुणीजन संग में गावें..., अच्युतम केशवं राम नारायणम... अन्य गीतों की प्रस्तुति दी। मंच पर कोरस गायन में प्रीतम यादव, तनु हालेड़े, यशवंत पांडे, की-बोडज़् पर अमित कुमार सीठा, तबले पर सिक चंद्र द्विवेदी, बांसुरी पर देवराज श्रीवास, ऑक्टोपैड पर प्रदीप ताम्रकार ने संगत की।

imgl0075.jpg
imgl0063.jpg

राग हंसध्वनि में की जुगलबंदी
दूसरी प्रस्तुति मिताली व तेजस विंचूरकर ने तबला एवं बांसुरी पर जुगलबंदी की। उन्होंने बांसुरी पर राग हेमवती में रूपक ताल बंदिश से अवतारणा की। इसी क्रम में राग हंसध्वनि में द्रुत तीन ताल पर जुगलबंदी की प्रस्तुति दी। वहीं, प्रस्तुति का समापन पहाड़ी धुन से किया। कायज़्क्रम के दौरान तबला एवं बांसुरी पर जुगलबंदी से कलाकारों ने रागों और बंदिशों से श्रोताओं और दशज़्कों को मंत्र मुग्ध किया।

imgl0073.jpg

कथक में लय और ताल का चला जादू
अंतिम प्रस्तुति दिल्ली की अनु सिन्हा ने कथक समूह नृत्य से की दी। प्रस्तुति की शुरुआत गणेश वंदना प्रथम सुमिरन श्री गणेश... से की। इसके बाद ताल धमार पर आधारित शुद्ध नृत्य पेश किया। इसमें पंडित राजेंद्र गंगानी के शिष्यों द्वारा बहुत ही सुंदर ढंग से प्रस्तुति को दिखाया गया। प्रस्तुति में तोड़े-टुकड़े, तिहाई का प्रयोग किया गया। तीसरी प्रस्तुति शिव स्तुति पर आधारित रही जो ताल ध्रुपद पर आधारित रही। अगले क्रम में गुरु भजन माला तिलक मनोहर बाना सिर छत्र धरे... और गुरु बिन ऐसे कौन करे... की प्रस्तुति दी। प्रस्तुति का समापन रचना सरगम से किया, जो तीन ताल पर आधारित रही। ये रचनाएं गुरु पंडित राजेंद्र गंगानी ने रचित की हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, 160 विधायकों के साथ नई सरकार बनाने का दावा किया पेशBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, अब महागठबंधन के साथ बनाएंगे सरकारBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने इस्तीफा सौंपने के बाद कहा - 'बीजेपी के साथ एक नहीं कई दिक्कतें थीं'Maharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपगुजरात के जामनगर में मुहर्रम पर बड़ा हादसा, ताजिया जुलूस में करंट लगने से दो की मौत, कई घायललालू-नीतीश की दोस्ती से ढह जाते हैं सारे समीकरण, जानिए फिर कैसे कम हुई दोनों के बीच दूरियां40 साल के सियासी सफर में 17 साल से सत्ता में नीतीश कुमार, लेकिन पुराने सहयोगियों को कई बार दे चुके हैं दगाGoogle: अमरीका के गूगल स्थित डेटा सेंटर में बड़ा हादसा,आग लगने से तीन कर्मचारी झुलसे, सेवाएँ बाधित होने की आशंका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.