उपचुनाव के ठीक पहले रेरा के अध्यक्ष अंटोनी डिसा को हटाया

पहले शिवराज सिंह फिर कमलनाथ के बन गये थे करीबी, शिवराज सरकार बनते ही विदाई की थी तैयारी और उपचुनाव से पहले डिसा को हटा दिया गया।

By: Hitendra Sharma

Updated: 26 Sep 2020, 07:42 AM IST

भोपाल. प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश भू-संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) के अध्यक्ष अंटोनी डिसा को हटा दिया। डिसा की नियुक्ति चार साल पहले शिवराज सरकार ने ही की थी, तब डिसा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के करीबी थी, लेकिन साल 2018 में कांग्रेस सरकार आई तो डिसा के तत्कालीन सीएम कमलनाथ से भी पुराने रिश्ते खूब निभे।

40 साल पुराने संबंध
डिसा आइएएस कॅरियर की शुरुआत में करीब चालीस साल पहले छिंदवाड़ा कलेक्टर थे। इस कारण जब कमलनाथ सीएम बने, तो डिसा की प्रशासन में खूब चली। कमलनाथ ने तीन पूर्व मुख्य सचिवों का थिंक-टैंक गठित किया, तब भी उसमें डिसा को रखा गया था। कमलनाथ सरकार में डिसा की प्रशासनिक कार्यों में काफी मानी जाती थी, इसलिए अब मार्च में जब से वापस शिवराज सरकार बनी, तब से ही यह माना जा रहा था कि डिसा को हटाया जाएगा। अब विधानसभा उपचुनाव के ठीक पहले डिसा को हटा दिया गया है। दरअसल, डिसा रियल एस्टेट की मॉनिटरिंग करने वाले रेरा के प्रमुख थे और बिल्डर लॉबी को लेकर यह अथॉरिटी महत्त्वपूर्ण मानी जाती है।

परशुराम से लिया जा चुका है इस्तीफा
इससे पहले अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन संस्थान के डीजी आर. परशुराम से शिवराज सरकार इस्तीफा ले चुकी है। परशुराम भी पूर्व में शिवराज के करीबी थी। सीएस पद से सेवानिवृत्त होने के बाद शिवराज ने उनकी नियुक्ति राज्य निर्वाचन आयोग में की थी। कमलनाथ आए, तो उन्होंने निर्वाचन आयोग का कार्यकाल पूरा होने पर सुशासन संस्थान में परशुराम का पुनर्वास कर दिया। मार्च में शिवराज सरकार बनी, तो सीएम शिवराज के साथ परशुराम की पटरी नहीं बैठी।

photo_2020-09-26_07-34-44.jpg
Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned