सिंधिया ने सीएम कमलनाथ को फिर लिखा पत्र, भिंड-मुरैना के विकास की बात कही

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने फिर लिखा मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र, अब भिंड-मुरैना के कार्यकर्ताओं से की मुलाकात...।

 

भोपाल। पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ( Jyotiraditya M. Scindia ) ने फिर मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखकर कई समस्याओं का समाधान करने की मांग की है। सिंधिया ( @JM_Scindia ) ने कहा है कि चंबल संभाग के विकास के लिए चंबल एक्सप्रेस-वे का प्लान मध्यप्रदेश सरकार ने बनाया था, जिसमें चंबल संभाग के भिंड, मुरैना और श्योपुर जिले शामिल थे। सिंधिया ने कहा कि उस एक्सप्रेस वे को चंबल नदी के समानांतर बनाने की योजना है, जो कि चंबल अंचल के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। मध्यप्रदेश की इस महत्वपूर्ण योजना के लिए मैं व्यक्तिगत रूप से धन्यवाद और आभार व्यक्त करता हूं।

 

सिंधिया ने अपने पत्र में कमलनाथ से कहा कि मुझे बताया गया है कि पूर्व के प्रोजेक्ट में परिवर्तन करके अब मुरैना जिले में चंबल एक्सप्रेस-वे को प्रारंभ करके श्योपुर जिले तक बनाया जाएगा, अर्थात भिंड जिले को इसमें शामिल नहीं किया जा रहा है, जबकि पूर्व के प्रस्ताव में भिंड जिला भी उक्त प्रोजेक्ट में शामिल था, यदि भिंड जिले को उक्त एक्सप्रेस-वे में शामिल नहीं किया जाएगा, तो उक्त एक्सप्रेस वे को बनाने की जो मूल मंशा पूरे चंबल अंचल के विकास की रही है, उसकी पूर्ति नहीं हो पाएगी। भिंड जिला भी सीमावर्ती जिला है, जहां पर विकास की अपार संभावनाएं हैं।

 

सिंधिया ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि संबंधित विभाग को निर्देशित करके चंबल एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट में भिंड जिले को भी शामिल किया जाए, ताकि भिंड जिला भी विकास की मुख्य धारा में शामिल हो सके। उन्होंने पत्र के अंत में यह भी लिखा है कि आशा है कि उक्त विषय में गंभीरता से विचार करके अनुग्रहीत करेंगे।

 

दतिया की समस्या पर भी लिखा था पत्र

इससे पहले सिंधिया ने दतिया जिले के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में भी समस्याएं पता लगने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखकर कार्यवाही का अनुरोध किया था।

-सिंधिया ने पत्र लिखकर कहा था कि दतिया नगर की सड़कों की हालत बहुत खराब है, आपको विदिथ है कि पूरे देश में मां पीताम्बरा के दर्शन करने के लिए लाखों लोग यहां आते हैं उनको एवं नगर के रहवासियों को बहुत दिक्कत होती है। नगर की सड़कों का पुनः निर्माण जरूरी है।


-अतिवृष्टि के कारण उड़द, तिल और सोयाबीन की फसल दतिया जिले में भी बड़े पैमाने पर खराब हुई है, जिसके मुआवजे की मांग की गई है। शासन की ओर से जल्दी राशि जारी की जाए ताकि किसानों को रबी सीजन की फसल की बुवाई में सहयोग मिल सके।

 

ग्वालियर की समस्या के लिए लिखा पत्र
इससे पहले सिंधिया ने 21 नवंबर को भी देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर हुरावली क्षेत्र की जर्जर सड़कों के बारे में लिखा था। सिंधिया ने लिखा था कि ग्वालियर में विगत 15 वर्षों से हुरावली क्षेत्र की जर्जर सड़कों के कारण नागरिकों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। मैंने देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर रक्षा मंत्रालय से इस सड़क के निर्माण की अनुमति का अनुरोध किया था। मुझे खुशी है कि रक्षा मंत्रालय ने सड़क निर्माण की अनुमति प्रदान कर दी है। ग्वालियर के नागरिकों और अपनी ओर से राजनाथ सिंह जी को धन्यवाद। कुरावली क्षेत्र के लोगों को अब जल्द ही इस जर्जर और खस्ताहाल सड़क से मुक्ति मिल सकेगी।

 

Show More
Manish Gite Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned