कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए जितिन प्रसाद के लिए क्या बोले- ज्योतिरादित्य सिंधिया?

jitin prasad and scindia news: भाजपा में शामिल हुए जितिन प्रसाद, सिंधिया ने किया स्वागत...।

By: Manish Gite

Updated: 10 Jun 2021, 09:32 AM IST

भोपाल। राज्यसभा सांसद एवं भाजपा के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya m scindia ) ने जितिन प्रसाद के भाजपा ज्वाइन करने का स्वागत किया है। सिंधिया ने कहा है कि वे (जितिन प्रसाद) उनके छोटे भाई समान हैं। मैं उन्हें भाजपा में आने के लिए बधाई देता हूं। गौरतलब है कि सिंधिया और जितिन प्रसाद दोनों ही कांग्रेस की मनमोहन सरकार में मंत्री रह चुके हैं।

 

यह भी पढ़ेंः भोपाल पहुंचकर सिंधिया बोले- भाजपा मेरा घर और मैं सभी से मिलने आया

बुधवार को भोपाल पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि जितिन प्रसाद (jitin prasad) मेरे छोटे भाई समान हैं, मैं पार्टी में उनका स्वागत करता हूं। सिंधिया ने कहा कि पीएम मोदी एवं अमित शाह जी के नेतृत्व में जितिन प्रसाद ने भाजपा में आने का जो फैसला किया, वो बहुत अच्छा है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बयान मीडिया को दिया है। गौरतलब है कि सिंधिया तीन दिनों के लिए मध्यप्रदेश के दौरे पर हैं। बुधवार को वे सुबह भोपाल पहुंचे।

 

 

फेमस थी तिकड़ी

एक जमाने में कांग्रेस पार्टी में ज्योतिरादित्य, सचिन पायलट और जितिन प्रसाद की तिकड़ी काफी फेमस थी। आमतौर पर इनकी चर्चा होती रहती थी। उस समय कांग्रेस की कमान राहुल गांधी के पास थी। राहुल गांधी के हाथ से कमान जाने के बाद पार्टी के भीतर इन नेताओं का कद कम होते गया। अपनी उपेक्षा का शिकार होने पर पिछले साल मार्च 2020 में 22 समर्थक विधायकों के साथ भाजपा ज्वाइन कर ली थी। इस दौरान मध्यप्रदेश में काबिज कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गिर गई थी। अब जितिन प्रसाद ने भी भाजपा का दामन थाम लिया है। राजनीतिक गलियारों में अब सचिन पायलट की चर्चा है।

 

यह भी पढ़ेंः नई समिति में सिंधिया का दबदबा, दिग्गज नेताओं की जाति बदलकर हुई बीजेपी की किरकिरी

 

सिंधिया बन सकते हैं केंद्रीय मंत्री

पिछले साल अपने 22 समर्थक विधायकों के साथ बीजेपी ज्वाइन करने वाले सिंधिया के लिए पिछले साल से ही अटकलें लगाई जा रही थी कि उन्हें केंद्र में मंत्री बनाया जाएगा। इसी सिलसिले में उन्हें पिछले साल हुए राज्यसभा चुनाव में प्रत्याशी बनाया था और वे राज्यसभा तक पहुंचे। अब जल्द ही केंद्र में उन्हें मंत्री पद से नवाजा जा सकता है।

 

यह भी पढ़ेंः मध्यप्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें, गृहमंत्री बोले- शिवराज सिंह ही रहेंगे मुख्यमंत्री

 

सिलावट ने जताई उम्मीद

इधर, सिंधिया समर्थक प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सिंधिया को केंद्र में मंत्री बनाए जाने की उम्मीद जताई है। उन्होंने विश्वास जताया कि उन्हें अच्छा विभाग भी मिलेगा।

BJP
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned