कमलनाथ-दिग्विजय पर भारी पड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया का मास्टर स्ट्रोक

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के आवास पर बैठक की इस बैठक में मध्यप्रदेश के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह भी मौजूद थे।

भोपाल. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर कहा- मध्यप्रदेश में लोकतांत्रिक मूल्यों को बचाने के लिए आज माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिये गए फैसले का स्वागत करता हूं। ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस ट्वीट के बाद कांग्रेस की बेचैनी बढ़ गई है। वहीं, दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के आवास पर बैठक की इस बैठक में मध्यप्रदेश के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह भी मौजूद थे।

कमलनाथ-दिग्विजय पर भारी पड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया का मास्टर स्ट्रोक

कांग्रेस पर भारी पड़े 'महाराज'
ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्यप्रदेश में महाराज के नाम से भी जाना जाता है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के हाथ से सत्ता फिसलती गई। ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन में 22 विधायकों ने इस्तीफा देकर सीएम कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ा दीं। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार अब अपने आखिरी पड़ाव की ओर जाती नजर आ रही है। विधानसभा में बहुमत साबित करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अचानक से बदले घटनाक्रम में विधानसभा अध्यक्ष ने आधी रात में बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार कर लिए। बागी विधायकों के इस्तीफा स्वीकार होने के बाद ही मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई है।

बागी विधायक नहीं आए भोपाल
ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक आखिरी वक्त तक भोपाल नहीं आए। कांग्रेस लगातार दावा करती रही की भाजपा विधायकों को बंधक बनाकर रखी है लेकिन सिंधिया ने इस विधायकों का भोपाल नहीं आने दिया। ज्योतिरादित्य सिंधिया बागी विधायकों को भोपाल लाने को लेकर दिल्ली में लगातार बैठक करते रहें औऱ रणनीति बनाते रहे। कहा जा रहा था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया का इशारा मिलता तो कांग्रेस के बागी विधायक भोपाल के लिए रवाना हो सकते थे। इस बीच बेंगलुरू में तीन चार्टर्ड प्लेन भी बेंगलुरू एयरपोर्ट पर तैयार रखे गए थे।

सुप्रीम कोर्ट ने दिया है फ्लोर टेस्ट का आदेश
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल की दो बार बहुमत साबित करने की मांग को ठुकरा दिया था। लेकिन आखिर में जब गुरुवार शाम को सुप्रीम कोर्ट ने बहुमत साबित करने के निर्देश दिए तो पूरा घटनाक्रम अचानक से बदल गया। कोर्ट के फैसले के बाद विधानसभा की कार्यसूची में शक्ति परीक्षण को शामिल किया गया है।

कांग्रेस ने जारी किया है व्हिप
कांग्रेस ने जारी किया व्हिप कांग्रेस विधायक दल के मुख्य सचेतक और संसदीय कार्य मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने बजट सत्र के लिए व्हिप जारी किया है। व्हिप जारी होने के बाद अब कांग्रेस विधायकों को सत्र के दौरान पूरे समय उपस्थित रहना अनिवार्य होगा।

Jyotiraditya Scindia Kamal Nath
Show More
Pawan Tiwari Producer
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned