ट्रोलर के निशाने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया, लोगों ने पूछा - 70 साल में आपके पिता और दादी के साल भी शामिल हैं या नहीं ?

भाजपा की असलियत तो आप स्वयं बता चुके हैं। उस भाषण में सिंधिया भाजपा को झूठे और निराधार आरोप लगाने वाली पार्टी बता रहे हैं।

By: Subodh Tripathi

Published: 11 Oct 2021, 08:59 AM IST

भोपाल. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को सोशल मीडिया पर एक ट्वीट करना भारी पड़ गया, जैसे ही उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह के ट्वीट पर रीट्वीट किया, वे ट्रोलर के निशाने पर चढ़ गए, सोशल मीडिया पर अब महाराज से एक के बाद एक सवाल किए जा रहे हैं।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोशल मीडिया अपने एक इंटरव्यूह की क्लिप शेयर की, जिसमें उन्होंने लिखा-'दशकों तक दूसरी सरकारों ने गरीबों से वादे किए लेकिन किया कुछ नहीं। मोदी जी ने गरीब जनता को समाज में सिर उठा कर गरिमामय जीवन जीने का अधिकार दिया है।, अमित शाह के इस ट्वीट पर रीट्वीट करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने लिखा- '70 सालों से गरीबी हटाओ का जुमला चल रहा था लेकिन नरेंद्र मोदी जी के कुशल नेतृत्व में जरूरतमंद परिवारों के लिए ना सिर्फ बड़े निर्णय लिए गए, बल्कि उन्हें आर्थिक रूप से सम्पन्न करने की दिशा में भी प्रभावी कदम उठाये गए।,

सिंधिया का इतना लिखते ही सोशल मीडिया पर वे जमकर ट्रोल होने लगे, एक के बाद एक सवाल उनसे किए जाने लगे, क्योंकि जिन 70 सालों की दुहाई वे दे रहे हैं, इन सालों में वे खुद, उनके पिता और दादी भी कांग्रेस में दशकों तक सांसद और मंत्री रह चुके हैं। ऐसे में ट्रोलर ने एक के बाद एक सवालों की झड़ी लगा दी।

यूजर ने लिखा- जिन 70 साल में कुछ न होने का आप राग अलाप रहे हैं उनमें आपके और पिताश्री के कितने साल शामिल हैं ?

यूजर ने लिखा - इनमें आप अपने और पिताजी के वो साल भी शामिल कर लें जब कांग्रेस में रह कर भाजपा को कोसते थे।

यूजर ने लिखा- 29 करोड़ से 80 करोड़ लोगों को फ्री राशन दुकान की लाइन में लगा कर गरीबी हटा रहे हैं बिना एयर लाइन के नागरिक उड्डयन मंत्री जी!

यूजर ने लिखा- रंग बदलने में आपने तो गिरगिट को भी पीछे छोड़ दिया है। उन्हें गद्दार और धोखेबाज भी लिखा जा रहा है।


एक ट्रोलर ने तो सिंधिया के एक पुराने भाषण की क्लिप शेयर करते हुए लिखा- भाजपा की असलियत तो आप स्वयं बता चुके हैं। उस भाषण में सिंधिया भाजपा को झूठे और निराधार आरोप लगाने वाली पार्टी बता रहे हैं।

Jyotiraditya Scindia
Show More
Subodh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned