कमलनाथ का इस्तीफा, सदन से गैरहाजिर रहा सत्ता पक्ष, ३ मिनट में स्थगित हो गई विधानसभा

कमलनाथ का इस्तीफा, सदन से गैरहाजिर रहा सत्ता पक्ष, 3 मिनट में स्थगित हो गई विधानसभा

 

jitendra [email protected]भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस्तीफे के बाद सदन में कार्यवाही महज तीन मिनट में सिमटकर रह गई। विधानसभा का सत्र दो बजे बुलाया गया था, लेकिन कमलनाथ के इस्तीफे से उत्साहित भाजपा विधायक दल 1.44 बजे ही सदन के भीतर पहुंच चुका था। सत्ता पक्ष सदन से पूरी तरह गैरहाजिर रहा। तय समय २ बजे विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति आए और सदन की कार्यवाही शुरू की। उन्होंने कहा कि सुप्रीमकोर्ट के आदेश के तहत सदन की बैठक बुलाई है, लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में सरकार ने इस्तीफा दे दिया है, इसलिए अब आदेश के पालन की जरूरत ही नहीं रही। इसके बाद राष्ट्रगान करके विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। इस पूरी कार्रवाई में महज ३ मिनट लगे।

चलता रहा सेल्फी का दौर

सदन के अंदर समय से पहले पहुंचे भाजपा विधायक मोबाइल से फोटो लेने, एक-दूसरे को बधाई देने और सेल्फी में व्यस्त रहे। भाजपा विधायक यशोधरा राजे ने सदन के अंदर अपने मोबाइल को ओम प्रकाश धुर्वे को थमाकर फोटो खींचवाया। दूसरे विधायक भी फोटो खींचते रहे।


कमलनाथ ने खाली किया सीएम ऑफिस

कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद शुक्रवार दोपहर को मंत्रालय के सीएम ऑफिस से अपना सामान बुलवा लिया। दोपहर करीब ३.३० बजे मंत्रालय स्थित दफ्तर से सामान खाली कराया गया। कमलनाथ अधिकतर समय मंत्रालय में बिताते थे, इस कारण उनके रहने के हिसाब से जो भी निजी सामान रखा गया था वह सब बुलवा लिया गया। कमलनाथ जल्द ही सीएम हाउस के पास वाले अपने पुराने सरकारी बंगले में शिफ्ट हो जाएंगे।


कमलनाथ बने कार्यवाहक सीएम

राज्यपाल लालजी टंडन ने सीएम कमलनाथ का इस्तीफा मंजूर कर दिया। इसके बाद राज्यपाल ने कमलनाथ को कार्यवाहक सीएम के रूप में काम करने के लिए कहा है। जब तक नया सीएम की शपथ नहीं होती, तब तक कमलनाथ कार्यवाहक सीएम के रूप में काम करेंगे।

जीतेन्द्र चौरसिया Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned