श्रीलंका में सीता माता का भव्य मंदिर बनवाने जा रही कमलनाथ सरकार, प्लान को मिला अंतिम रूप

कैसा बनेगा श्रीलंका में सीता माता का मंदिर, सीएम कमलनाथ ने दिया प्लान को अंतिम रूप

By: Faiz

Published: 27 Jan 2020, 07:58 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार श्रीलंका में सीता माता का भव्य मंदिर बनाने जा रही है। इसके लिए सरकार ने अफसरों को इसपर योजना बनाने के निर्देश दे दिये हैं। बैठक के दौरान चर्चा में तय हुआ कि, मंदिर निर्माण के लिए मध्य प्रदेश और श्रीलंका के अधिकारियों की एक ज्वाइंट कमेटी बनाई जाएगी। सरकार द्वारा ठीक उसी स्थान पर मंदिर की स्थापना की जाएगी, जहां रावण द्वारा सीता को बंदी बनाकर रखे जाने की मान्यता है।

 

पढ़ें ये खास खबर- चीन से निकले 'कोरोना वायरस' की दुनियाभर में दहशत, अब तक ले चुका है 80 जानें



अगले बजट में तय होगी मंदिर स्थापना की राशि

सोमवार को मंत्रालय में हुई बैठक के दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि, श्रीलंका में सीता मंदिर के भव्य निर्माण के लिए शीघ्र ही एक समिति बनाए जिसमें मध्य प्रदेश और श्रीलंका सरकार के अधिकारियों के साथ महाबौद्धी सोसायटी के सदस्य भी शामिल हों। ये समिति मंदिर निर्माण कार्यों की निगरानी रखेगी, ताकि, तय समयावधि में मंदिर निर्माण किया जा सके। उन्होंने कहा कि मंदिर के डिजाइन को अंतिम रूप दिया जाए और इसी वित्तीय वर्ष में आवश्यक धन राशि भी उपलब्ध करवाई जाए जिससे मंदिर का निर्माण कार्य शुरु हो सके। सीएम कमलनाथ ने कहा कि, प्रदेश सरकार श्रीलंका में उस जगह सीता मंदिर बनवाएगी जहां उन्हें रखा गया था।

 

पढ़ें ये खास खबर- रिपोर्ट में खुलासा : प्रदेश का पहला और देश में 63वें स्थान पर प्रदूषित है ये शहर, 6 साल में टूटा रिकॉर्ड

 

news

सांची में संग्रहालय

सीएम ने मंदिर निर्माण और सांची में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बौद्ध संग्रहालय, अध्ययन एवं प्रशिक्षण केन्द्र बनाने के लिए शीघ्र ही योजना बनाने और जल्दी काम शुरू करने के निर्देश भी दिये हैं। जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा, महाबौद्धी सोसायटी अध्यक्ष बनागला उपतिसा सहित प्रतिनिधिमंडल मौजूद था। सांची में बौद्ध संग्रहालय, अध्ययन, प्रशिक्षण केन्द्र बनाने के लिए ज़मीन एलॉट करने का भी आदेश दिया ताकि वहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर का संस्थान बनाया जा सके।

 

पढ़ें ये खास खबर- 10 साल के मासूम ने लिया हादसे में गंभीर घायल हुई मां के अंग दान करने का फैसला, पहले हो चुकी है पिता की मौत

 

अगर सुचारू होगी आवजाही तो सुलभ होंगे दर्शन

जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने हाल ही में श्रीलंका यात्रा के दौरान सीता मंदिर के निर्माण के संबंध में वहां की सरकार से हुई चर्चा की जानकारी दी। शर्मा ने कहा कि, अगर बेहतर वायु सेवाएं उपलब्ध हों तो श्रीलंका समेत दुनियाभर से बौद्ध धर्म को मानने वाले श्रद्धालु सांची स्तूप के दर्शन कर सकें। इसी तरह प्रदेश के लोग भी सुविधा के अनुरूप सीता मंदिर के दर्शन करने में आसानी होगी। इस मौके पर महाबौद्धी सोसायटी श्रीलंका के अध्यक्ष बनागला उपतिसा ने कमलनाथ को बौद्ध प्रतिमा, बौद्ध ग्रंथ और खुद की लिखित पुस्तक भेंट की।

 

पढ़ें ये खास खबर- जानलेवा है ये बीमारी, काम करते करते पीड़ित को आ जाता है 'स्लीप अटैक'

 

शिवराज सरकार की थी पहल

मध्य प्रदेश में पूर्व की बीजेपी सरकार ने श्रीलंका में भव्य सीता मंदिर बनवाने का ऐलान किया था। तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके लिए कुछ बजट और नक्शा भी तैयार किया था। प्रदेश में सत्ता पलटने के बाद आध्यात्म मामलों के मंत्री पीसी शर्मा ने कहा था शिवराज सरकार में सीता मंदिर बनाने की पहल का सरकार परीक्षण कराएगी। उसी के बाद आगे फैसला लिया जाएगा। अब प्रदेश की कमलनाथ सरकार शिवराज सरकार का अधूरा काम पूरा कराने की तैयारी कर रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned