'हनुमान भक्त' कमलनाथ ने बढ़ाई एमपी में बीजेपी की टेंशन, तीन प्लान से छिन लिया धर्म का मुद्दा!

मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि बीजेपी धर्म के नाम पर ढोंग करती है

भोपाल/ मध्यप्रदेश में सीएम कमलनाथ पर बीजेपी के सारे दांव बेअसर हैं। अपनी सटीक चाल से वह हर जगह अभी तक बीजेपी को मात देते आए हैं। हिंदुत्व के नाम पर राजनीति करने वाली बीजेपी से एमपी वह भी छिनने लगे हैं। इसके लिए उनके पास तीन प्लान है। जिसके जरिए बीजेपी को मात देने की तैयारी है। इसके लिए वह सहारा ले रहे हैं, भगवान राम, मां सीता और बजरंगी बली का।

तुष्टिकरण के नाम पर बीजेपी हमेशा मध्यप्रदेश में सीएम कमलनाथ को घेरती है। हाल ही में बीजेपी ने मंदिर से लाउडस्पीकर उतरवाने को लेकर सीएम कमलनाथ पर हमला कर रही थी। पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस मुद्दे को उठाया तो कमलनाथ ने उसी दिन दूसरे मुद्दे को उठाकर पूरे मामले से लोगों का ध्यान हटा दिया। उन्होंने फैसला किया कि महात्मा गांधी की पुण्य तिथि के अवसर पर हम सवा करोड़ हनुमान चालीसा का जप कराएंगे।

2_7.jpg

हनुमान भक्त हैं कमलनाथ
मध्यप्रदेश सरकार के वरिष्ठ मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि तीस जनवरी को हनुमान चालीसा के सवा करोड़ जप किए जाएंगे। यह भव्य आयोजन भोपाल के मिंटो हॉल में होगा। जहां पूरी सरकार मौजूद रहेगी। पीसी शर्मा ने कहा कि यह किसी पार्टी या सरकार का कार्यक्रम नहीं है। सीएम कमलनाथ इस प्रोग्राम के आयोजनकर्ता है। वह भगवान हनुमान के भक्त हैं।


छिंदवाड़ा में सीएम ने बनवाया है भव्य हनुमान मंदिर
सीएम बनने के बाद से ही कमलनाथ सॉप्ट हिंदुत्व की राह पर मध्यप्रदेश में चल रहे हैं। वह बीजेपी की राजनीति को भली भांति समझते हैं। इसलिए धार्मिक मुद्दों पर सीएम बोलते कम हैं। लेकिन मध्यप्रदेश में धार्मिक क्षेत्रों के विकास के लिए कार्य जरूर कर रहे हैं। कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में हनुमान जी 101 फीट ऊंची प्रतिमा लगवाई है। यह आमलोगों के लिए है, जहां कोई भी जाकर दर्शन और पूजा कर सकता है।

3_2.jpg

श्रीलंका में बनवा रहे हैं सीता मंदिर
कमलनाथ बीजेपी को धर्म के आधार पर घेरने के लिए कोई मुद्दा नहीं छोड़ना चाहते हैं। मध्यप्रदेश की सरकार श्रीलंका में भव्य सीता माता का मंदिर बनवा रही है। इसके लिए कमलनाथ ने हाल ही में अधिकारियों को एक समिति बनाने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश के मंत्री पीसी शर्मा पिछले दिनों इसे लेकर श्रीलंका दौरे पर भी गए थे। मंदिर निर्माण के लिए वहां से एक प्रतिनिधिमंडल ने आकर सीएम कमलनाथ से मुलाकात भी की।


राजा राम की नगरी को रहे संवार
बीजेपी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर राजनीति कर रही हैं। लेकिन कमलनाथ राजा राम की नगरी को संवारने में लगे हैं। मध्यप्रदेश के ओरक्षा में राजा राम का निवास है। यहां के राजा आज भी राम है। ऐसे में सरकार ओरछा की ब्रांडिंग के लिए ओरछा महोत्व का आयोजन कर रही है। जिसमें पर करोड़ों रुपये खर्च किए जाएंगे। इसकी तैयारी तेजी से चल रही है।

4_3.jpg

बीजेपी के लिए टेंशन
ऐसे में सवाल है कि कमलनाथ सॉप्ट हिंदुत्व की राह पर चलते हुए बीजेपी के मुद्दों को हाईजैक कर रहे हैं। इससे बीजेपी के परंपरागत मुद्दे छिनते जा रहे हैं। प्रदेश में वह राम से जुड़े धार्मिक स्थलों को एक सूत्र में पीरोने के लिए राम वन पथ गमन पर भी काम रहे हैं। ऐसे बीजेपी के पास धर्म के नाम पर कमलनाथ को घेरने के लिए कुछ बच नहीं जाता है। कमलनाथ के इन तीनों प्लानों को देखने के बाद तो यहीं लगता है कि फिलहाल मध्यप्रदेश में बीजेपी के पास इसका कोई काट नहीं है।

BJP Congress
Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned