lake view bhopal : बड़े तालाब का किया सर्वे, जीपीएस की मदद से गूगल मैपिंग कर जांचे 300 प्वाइंट

lake view bhopal : बड़े तालाब का किया सर्वे, जीपीएस की मदद से गूगल मैपिंग कर जांचे 300 प्वाइंट

Pravendra Singh Tomar | Publish: Aug, 13 2019 07:06:06 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

- राजस्व नक्शे से मिलान में पिछले पांच साल में बढ़ गया अतिक्रमण, चिरायू के अंदर नहीं मिलीं मुनारें

 

भोपाल। बड़ा तालाब lake view में एफटीएल जांच के सर्वे के लिए जीपीएस gps की मदद से गूगल मैपिंग Google Map कर 300 बिंदुओं की जांच की गई। राजस्व नक्शे के मिलान में पिछले पांच साल में तेजी से बड़े तालाब का अतिक्रमण encroachment बढ़ा है। बैरागढ़-इंदौर रोड पर ही कुछ नई दुकानें भी अवैध अतिक्रमण में चिन्हित की गईं हैं जिसमें पत्थर का कारोबार संचालित हो रहा है। जिसके पास एफटीएल की मुनार भी लगी हैं।


16 नंबर तक मुनारें गायब मिली
टीम ने बैरागढ़ क्षेत्र के बोरवन, बहेटा, खानूगांव, इंदौर रोड स्थित चिरायू हॉस्पिटल तक जांच की है। अस्पताल के अंदर एक से लेकर 16 नंबर तक मुनारें गायब मिली हैं। 2016 के सर्वे में भी से मुनारें नहीं मिली थीं।

mp

तालाब को बचाने के लिए किए जा रहे सर्वे
बड़ा तालाब को बचाने के लिए किए जा रहे सर्वे में बैरागढ़ की दो टीमें तहसीलदार दीपक पांडे के नेतृत्व में एफटीएल की जांच करने पहुंची। खानूगांव में चिन्हित किए गए 46 अवैध अतिक्रमणों तक पानी पहुंच चुका है। टीम ने जीपीएस के आधार पर बोरवन, बहेटा और बैरागढ़ से इंदौर रोड तक की जांच की। नक्शे पर रेखांकित करते हुए एक टीम ने 200 प्वाइंट तो दूसरी ने बैरागढ़-इंदौर रोड पर 110 प्वाइंट की जांच की।


कुछ मुनारें जमीन पर नहीं मिली

इन जांचों के दौरान बोरवन की कुछ मुनारें भी नहीं मिली हैं। या तो वे पानी में डूब चुकी हैं या फिर गायब हैं। अभी पानी मुनारों से 15 से20 फीट आगे निकल गया है। इस कारण बोरवन में कुछ मुनारें जमीन पर मिली नहीं हैं, जबकि वे नक्शे में नजर आ रही हैं। बड़ा तालाब का अधिकांश भाग बैरगढ़ सर्किल में ही आता है। इस कारण यहां पर दो टीमें काम कर रही हैं।



sdm

एक एडीएम सहित अमला अतिक्रमण हटाने के लिए
बड़े तालाब के कब्जों को चिन्हित कर हटाने के लिए कलेक्टर ने पांच टीमें बनाई हैं। एसडीएम की चार टीमें अपने-अपने क्षेत्र में आने वाले तालाबों के एफटीएल की जांच करेगी। एडीएम सतीश कुमार व अन्य राजस्व अधिकारियों की एक टीम को सिर्फ अतिक्रमण हटवाने के लिए लगाया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned