घर पर नहीं था पति तो सास-ससूर ने बहु के साथ किया ये...

घर पर नहीं था पति तो सास-ससूर ने बहु के साथ किया ये...

Deepesh Tiwari | Publish: Dec, 07 2017 02:06:30 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

खजूरी थाना पुलिस ने बताया कि ग्राम रसूडिया घाट निवासी कविता मेवाड़ा पति वीरेन्द्र सिंह मेवाड़ा (20) के साथ उसकी सास राधा बाई और ससुर किशनलाल ने जमकर म

भोपाल। खजूरी थाना क्षेत्र के बेरहम सास-ससुर ने पहले अपनी बहू के साथ जमकर मारपीट किया, बाद में बहु को जबरदस्ती जहर पिलाकर जान से मारने का मामला सामने आया है। हालांकि समय रहते महिला को आस-पास के लोगों ने अस्पताल में भर्ती करा कर महिला की जान बचा लिया है। खजूरी थाना पुलिस ने बताया कि ग्राम रसूडिया घाट निवासी कविता मेवाड़ा पति वीरेन्द्र सिंह मेवाड़ा (20) के साथ उसकी सास राधा बाई और ससुर किशनलाल ने जमकर मारपीट की थी। जिसके बाद सास-ससूर ने अपनी बहूु को ही जहर पिला दिया।

चिल्लाने की आवाज से दौड़े पडोसी

पुलिस का कहना है कि सास-ससुर ने कविता के साथ उस समय मारपीट की थी, जब उसका पति घर पर मौजूद नहीं था। इसके बाद बेरहम लोगों ने कविता को जबरदस्ती जहरीला पदार्थ पिलाकर उसे जान से मारने की कोशिश की थी। कविता के चिल्लाने की आवाज सुनकर आसपास के मौजूद लोग ने महिला के घर में जाकर महिला की हालत गंभीर देखते हुए कविता को इलाज के लिए मेमो अस्पताल में भर्ती कराया है। अस्पताल में डॉक्टरों ने कविता की हालत गंभीर बताई है।

ससुर गिरफ्तार, सास हुई फरार

पुलिस का कहना है कि कविता के बयान दर्ज करने के बाद बीते बुधवार को सास राधा बाई और ससुर किशनलाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 342, 307 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस का कहना है कि मामला दर्ज करने के बाद आरोपी किशनलाल को हिरासत में लिया गया है। वहीं राधा बाई अभी भी फरार चल रही हैं। जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा। हालांकि पुलिस ने सभी आरोपी के खिलाफ मामला दर्जकर जांच में जुटी हुई है।

आस-पास के रहवासियों का कहना है कि कई दिनों से सास राधा बाई और ससुर किशनलाल में नोकझोक होती रहती थी। लेकिन बुधवार को दोनों में कुछ विवाद को लेकर मारपीट शुरू हो गई। बहु के मना करने पर दोनों का गुस्सा सास पर भी टूट पड़ा। जिसके बाद पड़ोसियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लोगों के बायन ले रही है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned